कोख के सौदागर: सरगना नीलम या अस्मिता? राहुल को रिमांड पर लेकर पुलिस उगलवाएगी राज

Smart News Team, Last updated: 11/07/2020 09:17 AM IST
  • कोख के सौदागर गैंग में अस्मिता सबसे बड़ा किरदार निकलकर सामने आ रही है। वह वास्तव में कहां की निवासी है, नेपाल या सिलीगुड़ी, यह अभी साफ नहीं हुआ है।
कोख के सौदागर गैंग की सरगना नीलम।

कोख के सौदागर गैंग में अस्मिता सबसे बड़ा किरदार निकलकर सामने आ रही है। वह वास्तव में कहां की निवासी है, नेपाल या सिलीगुड़ी, यह अभी साफ नहीं हुआ है। नीलम और अस्मिता के बीच की कड़ी है राहुल आनंद सारस्वत। पुलिस ने इसे जेल भेजा था। उस समय ज्यादा पूछताछ नहीं हो सकी थी। राहुल को कस्टडी रिमांड पर लेने के लिए शुक्रवार को पुलिस ने कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया। इस पर सोमवार को सुनवाई होगी। आरोपी को भी जेल से तलब किया गया है।

आगरा: कोख के सौदागरों पर कसने लगा शिकंजा, सरगना नीलम के कैरियर को पुलिस ने दबोचा

सरोगेसी प्रकरण में अभी तक छह आरोपित जेल भेजे जा चुके हैं। दिल्ली और हरियाणा के कई डॉक्टर निशाने पर आए मगर उनके खिलाफ कोई ठोस साक्ष्य नहीं है। सिर्फ आरोपियों के मौखिक बयान हैं। इसलिए पुलिस उन पर हाथ नहीं डाल रही है। नीलम के खाते में दो साल में 50 लाख रुपये के ट्रांजक्शन के प्रमाण मिले थे। 

पूछताछ में यह पता चला था कि डिलीवरी के बाद बच्चे अस्मिता के सुपुर्द किए जाते थे। गर्भधारण की प्रक्रिया भी वही कराती थी। कभी सरोगेसी के लिए तैयार महिलाओं को नेपाल बुलाती थी तो कभी उन्हें सिलीगुड़ी बुलाती थी। तीन नवजात बच्चियों की बरामदगी से पहले राहुल दो नवजात बच्चों को अस्मिता के सुपुर्द करके आया था। उस समय अस्मिता ने उसे बागडोगरा बुलाया था। उसने गिरफ्तारी के समय यही बताया था।

कानपुर से आगरा आया सिपाही पति, घर में दारोगा संग मिली सिपाही पत्नी और फिर…

एसपी देहात पूर्वी प्रमोद कुमार ने बताया कि राहुल से रिमांड पर गहराई से पूछताछ होगी। जिस समय उसकी गिरफ्तारी हुई पुलिस को खुद इस गैंग के बारे में इतनी जानकारी नहीं थी। गैंग के सदस्य उतना ही बताते हैं जितना पुलिस इधर-उधर से पता लगा लेती है। पुलिस ने राहुल की दस दिन की कस्टडी रिमांड मांगी है। उसे लेकर बागडोगरा और नेपाल जाना है। कोर्ट में सुनवाई के तय होगा कि कितने दिन की रिमांड स्वीकृत होती है

अन्य खबरें