आगरा

कोख के सौदागरों का है बड़ा नेटवर्क, दुबई से जुड़े हैं मास्टरमाइंड विष्णु के तार

Smart News Team, Last updated: 23/07/2020 10:12 AM IST
  • कोख के सौदागर गैंग में पुलिस को अब आरोपी मास्टरमाइंड डॉ. विष्णु कांत और उसकी पत्नी अस्मिता की तलाश है। दोनों की फिलहाल कोई लोकेशन नहीं मिली है। पुलिस को जानकारी मिली है कि विष्णु कांत के संबंध दुबई में भी बहुत अच्छे हैं।
प्रतीकात्मक तस्वीर

कोख के सौदागर गैंग की कड़ी और लंबी होती जा रही है। नेपाल, सिलीगुड़ी के बाद अब इसके तार दुबई से जुड़े हुए लग रहे हैं। कोख के सौदागर गैंग में पुलिस को अब आरोपी मास्टरमाइंड डॉ. विष्णु कांत और उसकी पत्नी अस्मिता की तलाश है। दोनों की फिलहाल कोई लोकेशन नहीं मिली है। पुलिस को जानकारी मिली है कि विष्णु कांत के संबंध दुबई में भी बहुत अच्छे हैं। वहां उसने कई निसंतान दंपति को बच्चे मुहैया कराए हैं। दुबई के एक दंपति को बच्चा देने में उसे मोटा पैसा मिलता था। इतना ही नहीं, वह कई बार दुबई गया भी है।

कोख के सौदागर: सरगना नीलम या अस्मिता? राहुल को रिमांड पर लेकर पुलिस उगलवाएगी राज

गौरतलब है कि 19 जून को कोख के सौदागर गैंग के सदस्यों को पकड़ने के बाद से पुलिस मास्टरमाइंड डॉ. ‌विष्णुकांत और अस्मिता की तलाश में लगी है। विष्णुकांत के कर्नाटक भागने की आशंका है। वहीं अस्मिता के नेपाल में ही छिपे होने की जानकारी मिल रही है। पुलिस की टीम गठित कर दी गई है। विष्णुकांत की तलाश में टीम कर्नाटक जा रही है।

आगरा: कोख के सौदागरों पर कसने लगा शिकंजा, सरगना नीलम के कैरियर को पुलिस ने दबोचा

पुलिस की जांच में पता चला है कि विष्णुकांत एंब्रियोलाजिस्ट है। वह डॉक्टर के नाम से जाना जाता है। नोएडा में एक आईवीएफ सेंटर में काम किया करता था। पुलिस भी पहले उसे डॉक्टर समझ रही थी। उसने सरोगेसी के माध्यम से काफी पैसा कमाया था। शुक्राणु और अंडाणु बैंक के संचालक भी उसके संपर्क में थे। चार साल पहले विष्णुकांत ने नेपाल में आईवीएफ सेंटर खोला था। तब ही उसकी मुलाकात अस्मिता से हुई थी। इसके बाद दोनों ने शादी कर ली। इसी आईवीएफ सेंटर पर महिलाओं को सरोगेसी के लिए ले जाया जाता था। इसके अलावा विष्णुकांत दुबई भी जाया करता था। इस बारे में उसके परिचितों से पुलिस को जानकारी मिली है।

एसपी देहात पूर्वी प्रमोद कुमार ने कहा कि विष्णुकांत और अस्मिता की गिरफ्तारी को टीम को भेजा जाएगा। पुलिस को यह भी पता चला कि विष्णुकांत ने नोएडा में फ्लैट और गाड़ी खरीदी थी। गैंग के पकड़े जाने के बाद उसने फ्लैट और गाड़ी को बेच दिया। उसकी गाड़ियों के नंबर की जानकारी लेने में पुलिस लगी हुई है।

अन्य खबरें