प्रियंका गांधी का बड़ा ऐलान, पुलिस कस्टडी में मरे अरुण के परिजनों को 30 लाख देंगीं

Nawab Ali, Last updated: Thu, 21st Oct 2021, 12:18 PM IST
  • कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आगरा पुलिस कस्टडी में मरे अरुण वाल्मीकि के परिजनों को 30 लाख रूपये आर्थिक सहायता और केस लड़ने में कानूनी मदद का ऐलान किया है. 
अरुण वाल्मीकि के परिजनों को 30 लाख आर्थिक मदद देंगी प्रियंका गांधी. फोटो क्रेडिट प्रियंका गांधी फेसबुक.

आगरा. उत्तर प्रदेश में आगरा के जगदीशपुर थाने में 25 लाख की चोरी के आरोपी अरुण कुमार की मौत के आरोप पुलिस पर लगे हैं. कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने मृतक अरुण वाल्मीकि के परिजनों को 30 लाख रूपये देने का ऐलान किया है. इसके साथ ही मृतक के परिजनों को केस लड़ने में कानूनी मदद देने का भी ऐलान किया है. प्रियंका गांधी को कल आगरा जाने से पहले ही लखनऊ की सीमा पर रोक दिया गया था जिसके बाद उन्होंने पीड़ित परिजनों से बुधवार रात 11 बजे मुलाकात की थी.

आगरा के जदीशपुर थाने में 25 लाख रूपये की चोरी हुई थी जिसपर जांच करते हुए पुलिस ने सफाईकर्मी अरुण कुमार को हिरासत में लिया था. पुलिस पर आरोप हैं कि सफाईकर्मी की खूब पिटाई की गई थी जिस वजह से उसकी पुलिस कस्टडी में मौत हो गई. प्रियंका गांधी ने बुधवार की रात को मृतक अरुण के परिवार से मुलाकात कर उन्हें हर मुमकिन मदद का भरोसा दिया था.  प्रियंका गांधी ने ऐलान किया है कि मृतक अरुण वाल्मीकि के परिजनों को 30 लाख रूपये आर्थिक सहायता और केस लड़ने में कानूनी मदद की जाएगी. 

UP में सरकार बनने पर छात्राओं को स्मार्टफोन और इलेक्ट्रॉनिक स्कूटी देंगे- प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी ने बताया है कि परिजनों ने पुलिस को लेकर कई बड़े खुलासे किये हैं. पुलिस ने अरुण को इलेक्ट्रॉनिक शॉक देकर मारा है इसके अलावा 18 लोगों की बेरहमी से पिटाई की गई. उत्तर प्रदेश सरकार ने मृतक अरुण वाल्मीकि की 10 लाख रूपये आर्थिक मदद दी है. प्रियंका गांधी का कहना है कि मात्र 10 लाख रूपये मुआवजा देकर चुप नहीं करा सकते. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें