आगरा

लॉकडाउन: बेवजह घूमने वालों पर शिकंजा, ताबड़तोड़ कटे चालान, धड़ाधड़ गाड़ियां सीज

Smart News Team, Last updated: 02/06/2020 09:06 PM IST
  • व्यापारी घरों से बाजार आएंगे। सरकारी और प्राइवेट ऑफिस भी खुलते जा रहे हैं। शिफ्ट में कर्मचारी बुलाए जा रहे हैं। ऐसे में सड़क पर वाहनों की संख्या बढ़ना लाजमी है। पुलिस को इस दौरान ऐसे लोगों पर शिकंजा कसना है जो बेवजह घूमते हैं। जिनका कोई काम नहीं है। सिर्फ घूमने के इरादे से निकले हैं। पुलिस ने चेकिंग अभियान चलाया। हेलमेट और गाड़ी के कागज चेक करना शुरू कर दिया।
बेवजह घूमने वालों का चालान काटती पुलिस

कोरोना लॉकडाउन में मिलीं रियायतों के बीच सोमवार को ताजनगरी की सड़कों पर रौनक लौटी थी। मंगलवार को पहले दिन से भी ज्यादा भीड़ रही। फतेहाबाद मार्ग और एमजी रोड पर कई जगह रेड लाइट होने पर जाम लग गया। वाहन इतने थे कि सिग्नल होने पर भी एक बार में चौराहा पार नहीं कर पाए। बुधवार को इससे भी अधिक भीड़ होगी यह मानते हुए पुलिस अचानक सख्त हो गई। चंद घंटे में दो हजार से अधिक वाहनों के चालान काट दिए। 250 से अधिक वाहन सीज कर दिए। सीज वाहन इतने हो गए कि थानों में उन्हें रखने की जगह नहीं थी। बड़ी संख्या में वाहन पुलिस लाइन भिजवाए गए।

एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि शहर अनलॉक हो रहा है। व्यापारी घरों से बाजार आएंगे। सरकारी और प्राइवेट ऑफिस भी खुलते जा रहे हैं। शिफ्ट में कर्मचारी बुलाए जा रहे हैं। ऐसे में सड़क पर वाहनों की संख्या बढ़ना लाजमी है। पुलिस को इस दौरान ऐसे लोगों पर शिकंजा कसना है जो बेवजह घूमते हैं। जिनका कोई काम नहीं है। सिर्फ घूमने के इरादे से निकले हैं। पुलिस ने चेकिंग अभियान चलाया। हेलमेट और गाड़ी के कागज चेक करना शुरू कर दिया। दो पहिया वाहन पर एक से अधिक लोग मिले तो उसे रोक लिया। चालान किए। दो दिन में 500 से अधिक ऐसे दोपहिया वाहनों के चालान किए गए हैं जिन पर दो सवारी बैठी थीं। जिन दोपहिया वाहनों पर तीन लोग सवार थे उन्हें सीज कर दिया। जिनके पास गाड़ी के कागजात नहीं थे, लाइसेंस नहीं था उनके वाहन भी सीज किए गए।

ट्रैफिक और सिविल पुलिस ने संयुक्त रूप से अभियान चलाया। एमजी रोड, फतेहाबाद मार्ग, हाईवे पर जगह-जगह चेकिंग कराई गई। यह सिलसिला प्रतिदिन जारी रहेगा। पुलिस सख्त रहेगी तो लोग नियमों का पालन करेंगे। दोपहिया पर एक सवारी चलेंगे। चार पहिया पर तीन लोग ही चलेंगे। हेलमेट पहनेंगे, मास्क लगाएंगे। भीड़ नहीं लगाएंगे। पुलिस का यही मकसद है। सोमवार और मंगलवार को पुलिस ने लगभग चार हजार वाहनों के चालान किए। लगभग 500 वाहन सीज किए।

जुर्माना देखकर उड़ गए होश

जिन लोगों के वाहन सीज किए गए मोबाइल पर आए मैसेज देखकर उनके होश उड़ गए। जिनके पास वाहन के कागज नहीं थे ऐसे लोगों से पांच हजार रुपये तक के चालान हुए। जिनके पास हेलमेट नहीं था उनका 500 रुपये का चालान कटा। जिनके पास कोई कागज नहीं था हेलमेट भी नहीं था उनका लगभग 6000 रुपये का चालान हुआ।

सीज वाहनों को छुड़ाने के लिए हुए परेशान

जिन लोगों के वाहन सीज हुए हैं वे परेशान हैं। वाहन कैसे छूटेंगे उनकी समझ नहीं आ रहा है। बड़ी संख्या में लोग थाने पहुंचे। वहां से बताया गया कि एसपी ट्रैफिक ऑफिस में संपर्क करें। चालान सिविल पुलिस ने किया तो है एसपी सिटी कार्यालय में संपर्क करें। ऑन लाइन भी जुर्माना जमा कर सकते हैं। जुर्माना जमा करने के बाद ही वाहन वापस मिलेगा। ऐसे लोग ज्यादा परेशान हैं जिनकी गाड़ी के कागजात खो चुके हैं। गाड़ी पुरानी है। दोबारा गाड़ी के कागज नहीं बनवाए। ऐसे लोगों को पहले आरटीओ ऑफिस जाना पड़ेगा। डुप्लीकेट कागज निकलवाने पड़ेंगे। उसके बाद ही कागजात दिखाकर जुर्माना जमा होगा।

अन्य खबरें