आगरा

अभी थोड़ा संभलकर: 69 दिन बाद ताजनगरी खुली तो टूटा सड़कों पर पसरा सन्नाटा

Smart News Team, Last updated: 03/06/2020 08:17 PM IST
  • कोरोना संकट की वजह से पिछले करीब 69 दिनों से आगरा शहर के सभी बाजार बंद पड़े थे। 69 दिनों से बंद ताजनगरी जब बुधवार को खुली तो सड़कों पर पसरा सन्नाटा टूट गया और लोगों की बाजारों में चहल-पहल दिखी।
दुकान खोलते दुकानदार

कोरोना संकट की वजह से पिछले करीब 69 दिनों से आगरा शहर के सभी बाजार बंद पड़े थे। 69 दिनों से बंद ताजनगरी जब बुधवार को खुली तो सड़कों पर पसरा सन्नाटा टूट गया और लोगों की बाजारों में चहल-पहल दिखी। बुधवार को शहर के हर इलाके के मार्केट्स में खरीदारी के लिए भारी भीड़ दिखाई दी। बाजारों को खोलने से पहले पुलिस-प्रशासन ने कमेटियों और दुकानदारों को सोशल डिस्टेसिंग के नियमों के पालन कराने के शख्त आदेश दिए थे, मगर एमजी रोड, राजा की मंडी और शाह मार्केट में भीड़ के आगे सारे नियम फेल हो गए।

बाजारों में लौटी रौनक, मगर इंतजाम नहीं

आगरा के एमजी रोड पर वाहनों की आवाजाही आम दिनों की अपेक्षा ज्यादा दिखाई दी। कहीं-कहीं जाम की भी स्थिति बनी। एमजी रोड पर भी प्रशासन द्वारा तय दिनों के हिसाब से दुकानें खुली थीं। यहां बड़े शोरूमों पर ग्राहक नदारद दिखे। अधिकतर शोरूमों के बाहर गार्डों की तैनाती थी। जिन शोरूम पर ग्राहक पहुंचता, पहले उसे सैनेटाइज किया जाता फिर अंदर जाने की इजाजत होती थी। ग्राहकों को भी एक-एक कर हीं अंदर जाने दिया जा रहा था। वैसे भी इन शोरूमों पर ग्राहकों की संख्या न के बराबर ही दिखी।

दुकानों में सैनेटाइजर की व्यवस्था नहीं

वहीं राजा मंडी की बात करें तो आज दोपहर 12 बजे प्रवेश करने पर दाईं ओर की दुकानें खुली दिखाई दीं। बाई ओर की भी दुकानें खुलीं थीं। यहां कॉपी-किताबों की दुकानें ज्यादा खुली थीं। राजामंडी में दाईं ओर की गैलरी में खुली दुकानों में लोग एक दूसरे से सटकर खड़े दिखाई दिए। किसी के मुहं पर मास्क दिखा तो किसी के गले में लटका था। ज्यादातर दुकानदारों के यहां सैनेटाइजर तक नहीं दिखा। दुकानदार स्वयं भी मास्क को गले में लटकाएं दिखे। खुली दुकानों के सामने की ओर की दुकानें बंद थीं। यहां पुलिसकर्मी खड़े हुए थे।

सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ीं धज्जियां

शाह मार्केट को इलेक्ट्रॉनिक्स सामानों का हब माना जाता है। यहां एक ओर की दुकानें खुली थीं तो दूसरी ओर की बंद थीं। इस मार्केट में दाईं ओर सड़क किनारे की ओर की दुकानें बंद थीं। कुछ देर के लिए लोगों ने दुकानें खोली तो वहां मोबाइल खरीदने वालों की भीड़ उमड़ पड़ी। पुलिस ने मौके पर आकर इन्हें बंद कराकर अपने टर्न पर खो‌लने के लिए कहा। मार्केट के अंदर की लेन में कहीं-कहीं तो दाएं और बाएं ओर की दुकानें खुलने का नियम दिखा तो किसी लेन में दोनों साइड की दुकानें खुली थीं। भीड़ का आलम यह रहा कि पूरे शाह मार्केट में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कहीं भी नहीं दिखा। हालांकि, एक दुकान के बाहर एक व्यक्ति लाउडस्पीकर से ग्राहकों से मास्क पहने रहने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए अनुरोध करता दिखा।

अन्य खबरें