आगरा में कम हुआ कोरोना का प्रकोप, सितंबर के अंत में मिले 84 कोविड केस

Smart News Team, Last updated: 02/10/2020 06:29 PM IST
  • कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आगरा से अच्छी खबर आई है. आगरा के कासगंज में सितंबर के अंत में कोरोना के केसों में गिरावट देखी गई है.
कासगंज में 5 महीने बाद कोरोना के केसों में कमी आई है.

आगरा. पूरे प्रदेश में जहां कोरोना तेजी से फैलता जा रहा है. वहीं  आगरा से एक और अच्छी खबर आई है. कासगंज जिले में सितंबर महीने के अंत में कोरोना के केसों में कमी देखने को मिली है. आगरा में तो कोरोना के नए केसों का ग्राफ घट रहा है और डिस्चार्ज होने वालों की संख्या बढ़ ही रही है. अब कासगंज में भी कोरोना के केसों में कमी देखने को मिल रही है. स्वास्थ्य विभाग इस कमी को बहुत बड़ी राहत मान रहा है.

कासगंज जिले में पहली बार अप्रैल में कोरोना के तीन केस सामने आए थे. उसके बाद मई में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 15 हो गई थी. जून में कोरोना के 22 केस मिले थे. जुलाई में कोरोना बहुत तेजी से जिले में फैला. जुलाई में कोरोना के 378 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान की गई. अगस्त में भी बहुत लोग कोरोना की चपेट में आए. अगस्त में 376 नए केस मिले. 

अक्टूबर में 6 के बदले 9 दिन बैंक बंद, छुट्टी तारीखों से पहले निपटा लें लेन-देन

कासगंज में सितंबर की शुरूआत में भी कोरोना तेजी से फैल रहा था लेकिन सितंबर के आखिर में कोरोना के केसों में गिरावट देखने को मिली. सितंबर महीने में जहां 16 सितंबर तक 314 कोरोना संक्रमितों की मरीजों की पहचान की गई. वहीं सितंबर से 30 सितंबर तक कोरोना के सिर्फ 84 केस सामने आए. अक्टूबर की शुरूआत में 3 कोरोना संक्रमितों की पहचान की जा चुकी है.

धोखाधड़ी केस: बिल्डर हरिओम दीक्षित और उनकी पत्नी को आगरा पुलिस ने किया गिरफ्तार

आपको बता दें कासगंज में कोरोना के केसों में गिरावट जरूर आई है लेकिन अभी तक कोरोना पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है. स्वास्थ्य विभाग ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर अभी भी लापरवाही बरती गई तो कोरोना फिर से तेजी से फैल सकता है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें