होम आइसोलेशन में नहीं रहेंगे अब कोविड-19 पॉजिटिव बच्चे, बुजुर्ग और बीमार

Smart News Team, Last updated: Sun, 6th Dec 2020, 2:27 PM IST
  • आगरा में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए होम आइसोलेशन के नियमों में बदलाव हुआ है. अब बच्चों, बुजुर्गों और बीमार व्यक्तियों को होम आइसोलेशन में नहीं भेजा जाएगा. इन्हें अस्पाताल में एडमिट में कराया जाएगा.
आगरा में कोरोना संक्रमित बच्चे, बुजुर्ग और बीमारों को होम आइसोलेशन की सुविधा नहीं मिलेगी.

आगरा. आगरा में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए होम आइसोलेशन के नियमों में बदलाव किया गया है. नए नियम के मुताबिक कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने के बाद बच्चों, बुजुर्गों और बीमार व्यक्तियों को होम आइसोलेशन में नहीं भेजा जाएगा. इन लोगों को अस्पताल में एडमिट किया जाएगा. सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर यह नया नियम बनाया गया है.

जिला प्रशासन ने ताजनगरी में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए होम आईसोलशन की व्यवस्था में बदलाव कर दिया है. अब 14 साल तक के बच्चे, 60 साल या इससे अधिक उम्र के बुजुर्ग और पहले से बीपी, शुगर, कैंसर, टीबी जैसी बीमारियों से जूझ रहे मरीजों को होम आइसोलेशन में नहीं भेजा जाएगा. इन्हें कोरोना होने पर संक्रमित अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा.

फिल्म डायरेक्टर प्रकाश झा ने CM योगी से की मुलाकात, फिल्म सिटी पर हुई चर्चा

आगरा सीएमओ डॉ. आरसी पांडेय ने बताया कि बच्चों के कोरोना संक्रमित होने पर उन्हें अस्पताल में एडमिट कराने का गाइडलाइंस तो पहले से ही है, लेकिन अब इस गाइडलाइंस का सख्ती से पालन कराया जाएगा. 

IPL में अब दिखेंगी नई टीम, लखनऊ और कानपुर में से एक को मिलेगी प्रीमियर लीग में जगह

उन्होंने कहा कि 60 साल या इससे अधिक उम्र के बुजुर्ग और बीमार लोगों को होम आइसोलेशन में नहीं दिया जाएगा. अब उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट कराया जाएगा. सीएमओ ने कहा कि कोरोना मरीज चाहे तो सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त प्राइवेट अस्पतालों में इलाज करवा सकते हैं. 

लखनऊ: 50 लाख युवाओं को नौकरी देने के लिए योगी सरकार ने की मिशन रोजगार की शुरुआत

वाराणसी और अमरोहा में बनेंगे मैंगो पैक हाउस, योगी सरकार से 12 करोड़ रूपए मंजूर

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें