नशे के बड़े नेटवर्क का खुलासा, ड्रग विभाग ने आगरा में की छापेमारी

Smart News Team, Last updated: 11/12/2020 12:07 AM IST
  • ड्रग विभाग ने आगरा में छापेमारी कर नशे के बड़े नेटवर्क का खुलासा किया. औषधि विभाग ने ये छापेमारी फव्वारा मार्किट में दो दवा कि फर्म पर किया जहाँ पर उन्हें भ्रूड़ हत्या की दवाई और मशीने मिली.
ड्रग विभाग का आगरा में छापेमारी कर नशे के बड़े नेटवर्क का खुलासा किया

आगरा के ड्रग विभाग ने शहर के फव्वारा बाजार की दो फर्मों पर छापा मारकर नकली और नशे की दवाइयों के बड़े नेटवर्क का पता लगाया है. ये फर्मे कई राज्यों में गर्भपात में काम आने वाली दवाइया और किट सप्लाई करते थे. औषधि विभाग को गुप्त सुचना मिली थी कि आगरा से हरियाणा और राजस्थान में भ्रूड़ हत्या में प्रयोग आने वाली दवाइया और किट सप्लाई हो रही है. जिसके बाद विभाग ने इन फर्मो के बारे में पता लगाया और वहां पर रेड मारकर सभी साक्ष्य भी इक्क्ठा किए. दोनों फर्म गोगिया के फव्वारा मार्केट की माधव ड्रग हाउस और एके एंटरप्राइजेज के नाम से थी.

दोनों फर्म के नशीली दवाओं के कारोबार में लिप्त होने कि आशंका ड्रग विभाग को रेड मारने के बाद दूर हो गई. दोनों फर्मो के डाटा को फिलहाल विभाग ने जब्त कर लिया है और उसकी जाँच किया जा रहा है. यदि जरुरत पड़ी तो बैंगलोर में स्थित लैबोरेटरी की सहायत भी लिया जाएगा. विभाग अभी सभी साक्ष्य जुटाने में लगी हुई है. सबूतों के पुरे हो जाने के बाद ही कोई कार्यवाही किया जाएगा. जानकारी के अनुसार दोनों फर्मो की सालाना आय करीब 40 करोड़ रुपए है. अभी और भी जांच बाकि है जिसके बाद और भी फर्म में गड़बड़िया सामने आ सकती है.

लखनऊ, बरेली, प्रयागराज, वाराणसी से हवाई सेवा के लिए रिजनल कनेक्टिविटी होगी शुरू

सिर्फ पुलिस ने ही किया कार्यवाही

पिछले साल और इस साल के गर्मियों में पुलिस ने पंजाब, दिल्ली में छामेपारी कर कई नशीली फर्मो का भंडाफोड़ किया था, लेकिन ड्रग विभाग को शहर में हो रहे गड़बड़ झाले का पता ही नहीं चला. पुलिस ने जो काम किया वह औषधि विभाग था. औषधि विभाग का कहना है कि इस साल की यह सबसे बड़ी रेड है.

शख्स ने शौचालय के 40 फुट गहरे गड्ढे में छुपाई देसी शराब, पुलिस ने मारा छापा

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें