UP में लोगों को लगे नकली इंजेक्शन! डीलिंग और खपाने वाले 10 से अधिक बुकीज पर नजर

Smart News Team, Last updated: Sun, 13th Jun 2021, 12:46 PM IST
  • 2600 नकली डेका ड्यूराबोलिन इंजेक्शन वाराणसी, कानपुर और लखनऊ शहर में खपाने वाले 10 से अधिक बुकीज पर पुलिस शिकंजा कसने की तैयारी कर रहा है.
ब्लैक मार्केटिंग करने वाले गिरोह ने कई लोगों को नकली इंजेक्शन बेचा है.(प्रतीकात्मक फोटो)

आगरा : कोरोना के संक्रमित मरीजों के इलाज में इस्तेमाल होने वाली डेका ड्यूराबोलिन इंजेक्शन आगरा के राजू ड्रग हाउस ने कनार्टक की एक कंपनी से 2600 नकली वायल खरीदा था. जिसको बेचने के लिए उसने एक फर्म से डीलिंग भी कर लिया था. लेकिन उस कंपनी ने राजू ड्रग्स हाउस के नकली इंजेक्शन को पहचान लिया. जिस कारण से यह डील पूरा नहीं हो पाया. राजू ड्रग हाउस इन नकली 2600 वायल को खपाने के लिए अप्रैल महीने में हेमा मेडिकल स्टोर ने बेच दिया. हेमा मेडिकल स्टोर ने इन इंजेक्शन को वाराणसी, कानपुर, लखनऊ जैसे शहरों के मरीजों को बेच दिया.

हेमा मेडिकल स्टोर के पास ड्रग विभाग को केवल 50 वायल इंजेक्शन मिला. बाकी के सारे इंजेक्शन इन तीनों शहरों में बुकी के खपा दिया होगा. ड्रग डिपार्टमेंट के लिए यह पता करना बेहद मुश्किल है कि इन नकली इंजेक्शन को इन मरीजों के लिए खरीदा गया है. और जिन मरीजों को यह डरा दिया गया है वह कितना फायदेमंद हुआ.

कूलर हटाने के विवाद में पहले समझौता, फिर पड़ोसी ने ऐसे लिया महिला से बदला

इस कालाबाजारी में सबसे बड़ी भूमिका बुकी अदा करते हैं. पुलिस की नजर में ऐसे 10 बुकीज का नाम सामने आया है जिन पर पुलिस बड़ी कार्रवाई करने की योजना की तैयारी है. इंजेक्शन की ब्लैक मार्केटिंग की दुनिया में ये बुकीज इंजेक्शन के डीलिंग से लेकर उसे खपाने तक का जुगाड़ करते हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें