आगरा: महिला पार्षद ने अस्पताल संचालक पर लगाया टॉयलेट में बंद करने और अभद्रता करने का आरोप

Smart News Team, Last updated: Tue, 18th May 2021, 3:31 PM IST
आगरा में एक महिला पार्षद में अस्पताल संचालक पर टॉयलेट में बंद करने और अभद्रता करने का आरोप लगाया है. वहीं, अस्पताल संचालक ने पार्षद और उसके लोगों पर तोड़फोड़ करने का आरोप लगाया है. दोनों के बीच हुए विवाद के कारण मामला थाने में पहुंच गया है. पुलिस घटना की जांच कर रही है.
आगरा में महिला पार्षद और अस्पताल संचालक के बीच सोमवार रात जमकर विवाद हो गया.

आगरा. एत्माद्दौला इलाके में मंडी समिति के पास एक अस्पताल संचालक और महिला पार्षद के बीच सोमवार देर रात विवाद हो गया. महिला पार्षद ने अस्पताल संचालक पर टायलेट में बंद करने और अभद्रता करने का आरोप लगाया. वहीं दूसरी तरफ अस्पताल संचालक ने पार्षद और उसके लोगों पर तोड़फोड़ करने का आरोप लगाया है. दोनों ने थाने पहुंचकर एक दूसरे के खिलाफ एफआईआर लिखवाई है.

वार्ड 59 की पार्षद पुष्पा देवी ने बताया कि उनकी रिश्तेदार को प्रसव पीड़ा होने पर मंडी समिति के पास स्थित सरस्वती हास्पिटल में भर्ती कराया गया है. वह सोमवार रात रिश्तेदार के लिए खाना लेकर गई थीं. अस्पताल में पहुंचने पर उनका स्टाफ से विवाद हो गया. महिला पार्षद ने इसकी जानकारी अस्पताल संचालक को दी. इस पर संचालक ने स्टाफ के साथ मिलकर उनसे अभद्रता करने की. स्टाफ के साथ मिलकर उन्हें शौचालय में बंद कर दिया.

आगरा में चालान के नाम पर व्यापारी के साथ की अभद्रता, 5 सिपाही हुए लाइन हाजिर

महिला पार्षद ने यह भी बताया कि घटना की जानकारी होने पर उनके पति और पुत्र वहां पहुंचे तो उनके साथ भी मारपीट कर दी गई. पति और पुत्र ने उन्हें शौचालय से बाहर निकाला. पार्षद की सूचना पर पुलिस अस्पताल पहुंच गई. पार्षद अस्पताल संचालक और स्टाफ के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठ गईं. दूसरी तरफ अस्पताल संचालक ने पार्षद पति पर धमकी देने का आरोप लगाया. उसने पुलिस को बताया कि महीनेदारी देने से मना करने पर पार्षद पति ने उसे हाकी-डंटों से पीटा. घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद है. इंस्पेक्टर संजय कुमार त्यागी ने बताया कि दोनों पक्ष ने तहरीर दी है. जांच की जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें