आगरा पुलिस ने तेल व्यापारी को पीटा, केंद्र मंत्री गजेंद्र सिंह को पहुंची शिकायत

Smart News Team, Last updated: 15/09/2020 10:50 AM IST
  • आगरा के रुनकत चौकी के बिना जांच किए तेल व्यापारी के जीएसटी बिल वाले 15 ड्रम सीज करने के बाद व्यापारी को पीटा गया. व्यापारी ने शिकायत केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत कर दी. जिसके बाद पांच पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया.
आगरा पुलिस ने तेल व्यापारी को पीटा, केंद्र मंत्री गजेंद्र सिंह को पहुंची शिकायत

आगरा. ताजनगरी के सिकंदरा थाने की रुनकता चौकी ने 15 ड्रम डीजल सीज किए. पुलिस ने यह गलती कर दी उसने यह बिना जाने कि यह माल जीएसटी के बिल से ले जाए जा रहा उसने माल सीज कर दिया. मामला यहां नहीं रुका. 

मौके पर तैनात पुलिसकर्मियों पर आरोप है कि उन्होंने तेल व्यापारी मांगीराम चौधरी को पीटा और उसकी जेब से 23 हजार रुपये निकाल लिए. गाड़ी चलाने वाले को वहां से भगा दिया गया. इस मामले की मांगीराम ने जोधपुर के सासंद और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत से की थी.

इस पर एडीजी जोन अजय आनंद ने जांच करने की जिम्मेदारी अंडर ट्रेंनिग‌ को दी थी जिसमें कि पता चला‌ कि तेल व्यापारी मांगीराम को सही में पीटा गया है. रिपोर्ट के आधार पर शनिवार को चौकी इंचार्ज सहित पांच पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया गया है. जिनके नाम है चौकी इंचार्ज अरुण सिंह, हैड कांस्टेबिल अखिलेश, सिपाही धर्मेंद्र, सुशील और अनिल है. इनके खिलाफ शुरुआती जांच करने के आदेश भी दे दिए गए है. 

पिटाई से तंग आकर 11 दिन में छोड़ा पति,ससुराल वालों ने रची लुटेरी दुल्हन की साजिश

मामला क्या है- मांगीराम ने कहा कि वह 9 सितंबर को भोपाल से जोधपुर आगरा के रास्ते टाटा 407 गाड़ी में 15 ड्रम डीजल लेकर आ रहे थे. जिसका की जीएसटी बिल भी उनके पास था. इसके बाद भी रुनकता पुलिस ने उन्हें रोका और एक हजार रुपये एंट्री फीस की मांग की. 

आगरा: फांसी के फंदे पर लटकी मिली मां तो मासूम बेटियों ने कहा…

 मेरे पैसे न देने पर थाने लेकर आ गए और जितने भी पुलिस वाले थे वहां पर उन्होंने मुझे बारी-बारी से बुरी तरह पीटा. इस दौरान जेब से 23 हजार रुपये निकाल लिए. इन सबके बाद दोपहर करीब 4 बजे छोड़ा गया.  

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें