एक दिन के लिए थानेदार बनी बेटी ने काटा पिता का चालान, बिना मास्क घूम रहे थे बाहर

Smart News Team, Last updated: 21/11/2020 04:25 PM IST
  • आगरा से सटे मैनपुरी में बेटियों को एक दिन के लिए थानेदार बनाया गया था. ऐसे में एक दिन तक मैनपुरी में बेटियों का हुक्म चला और मिशन शक्ति अभियान के तहत जिले के 14 थानों में छात्राओं को थानेदार बनाया गया.
आगरा के मैनपुरी में बेटी ने काटा पिता का चालान

आगरा: आगरा से सटे मैनपुरी में बेटियों को एक दिन के लिए थानेदार बनाया गया था. ऐसे में एक दिन तक मैनपुरी में बेटियों का हुक्म चला और मिशन शक्ति अभियान के तहत जिले के 14 थानों में छात्राओं को थानेदार बनाया गया. लेकिन खास बात तो यह है कि इसी दौरान एक दिन के लिए थानेदार बनी छात्रा ने फर्ज निभाते हुए अपने ही पिता का चालान काट दिया. दरअसल, छात्रा के पिता चौराहे पर बिना मास्क के घूम रहे थे, जिसपर कार्रवाई करते हुए थानेदार बनी छात्रा ने अपने पिता का चालान काट दिया.

छात्रा के इस कदम से वहां मौजूद पुलिसकर्मी भी काफी हैरान रह गए. वहीं, बेटी के इस कदम से पिता को भी जिम्मेदारी का एक सबक मिला. बता दें कि थानेदार बनी छात्रा का नाम हनी शर्मा है. वह सदर बाजार की रहने वाली है. थानेदार बनने के बाद उन्होंने जनता की शिकायतों को सुना और सीयूजी नंबर पर आने वाली शिकायतों को संबंधित चौकी इंचार्ज को मौके पर जाकर शिकायत निस्तारण के भी आदेश दिये. छात्रा ने चेकिंग के दौरान लोगों को मास्क और हेलमेट लगाने के भी आदेश दिये.

आगरा में तीन दिन बाद फिर बढ़ा प्रदूषण, एक्यूआई लेवल पहुंचा 253

हनी शर्मा बाकी पुलिसकर्मियों के साथ बाजार और बस अड्डे के पास चेकिंग कर रही थी. इसी दौरान उनके पिता कृष्णकांत शर्मा भी वहां पहुंचे. उन्होंने मास्क नहीं लगाया हुआ था, जिसे लेकर थानेदार बनी बेटी ने मास्क न लगाने पर एक्शन लिया और पिता का ही चालान काट दिया. यह चीज देखकर वहां मौजूद पुलिसकर्मी हैरान रह गए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें