आगरा: खनन माफिया से जुड़े होने पर चार पुलिसकर्मी निलंबित, रिश्वत की करी थी मांग

Smart News Team, Last updated: Fri, 5th Feb 2021, 7:38 PM IST
  • आगरा में पुलिस दरोगा द्वारा खनन माफिया से रिश्ते रखने का मामला सामने आया है. इस मामले को लेकर चार दरोगा को आगरा में निलंबित कर दिया गया है. मामले का खुलासा एसपी पश्चित सत्यजीत गुप्ता की जांच में हुआ है.
खनन माफिया से जुड़े होने पर चार पुलिसकर्मी निलंबित (प्रतीकात्मक तस्वीर)

आगरा में पुलिस दरोगा द्वारा खनन माफिया से रिश्ते रखने का मामला सामने आया है. इस मामले को लेकर चार दरोगा को आगरा में निलंबित कर दिया गया है. मामले का खुलासा एसपी पश्चित सत्यजीत गुप्ता की जांच में हुआ है. इनके दोषी पाए जाने के बाद एसएसपी बबलू कुमार ने दरोगा को निलंबित करने की कार्रवाई की. इस मामले में एक होमगार्ड भी दोषी साबित हुआ. बताया जा रहा है कि दरोगाओं का ऑडियो भी वायरल हुआ था.

दरोगा को लेकर शिकायत मिली थी कि खेरागढ थाने के प्रभारी निरीक्षक सूरज सिंह का करीबी दरोगा पुष्पेंद्र सिंह रेत से लदे ट्रकों और ट्रैक्टरों को निकलवाने के बदले में करीब 1.5 लाख रुपये रिश्वत मांग रहा था. इससे जुड़ा उसका ऑडियो भी वायरल हुआ, जिसके बाद मामले की जांच गई तो इसमें दो और पुलिसकर्मी और एक होमगार्ड का नाम सामने आया. बताया जा रहा है कि यह ऑडियो पिछले महीने की 16 तारीख को वायरल हुआ था.

आगरा में बीमा कंपनी के कर्मचारी के खाते से उड़े 50 हजार रुपये

बता दें कि पुलिस ने खनन माफिया के गुर्गे के मोबाइन नंबर की डिटेल भी निकलवाई, जिसमें चार पुलिसकर्मियों द्वारा कई बार बातचीत करने का खुलासा हुआ. इस बारे में बात करते हुए एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि एसपी वेस्ट की जांच रिपोर्ट के आधार पर दरोगा पुष्पेंद्र कुमार, सिपाही सुधीर तोमर, सिपाही सूरज सिंह, सिपाही वीकेश कुमार को निलंबित कर दिया गया. वहीं, दूसरी और होमगार्ड हरेंद्र सिंह के खिलाफ रिपोर्ट भेज दी गई है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें