आगरा

जरूरी खबर: 4 हजार आगरावालों को दोबारा करना होगा ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन

Smart News Team, Last updated: 07/06/2020 02:47 PM IST
  • ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के पहले चरण में स्थायी लाइसेंस बनेंगे। इसे बनवाने वालों का पुराना आवेदन निरस्त होगा। नए सिरे से आवेदन करना होगा। हालांकि, जिन लोगों ने फीस जमा कर दी है, उनको दोबारा फीस जमा नहीं करनी होगी। वहीं लर्निंग लाइसेंस के लिए गाइडलाइन जारी नहीं की गई है।
driving licence

अगर आपने कोरोना लॉकडाउन से पहले ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन दिया था, तो उसे भूल जाइए, क्योंकि अब आगरा प्रशासन नए सिरे से आवेदन लेने वाला है। कोरोना लॉकडाउन में ठप पड़े ड्राइविंग लाइसेंस बनाने का काम जल्द ही शुरू हो सकता है। मुख्यालय से सभी आरटीओ को तैयारी रखने का निर्देश दिया गया है। ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के पहले चरण में स्थायी लाइसेंस बनेंगे। इसे बनवाने वालों का पुराना आवेदन निरस्त होगा। नए सिरे से आवेदन करना होगा। हालांकि, जिन लोगों ने फीस जमा कर दी है, उनको दोबारा फीस जमा नहीं करनी होगी। वहीं लर्निंग लाइसेंस के लिए गाइडलाइन जारी नहीं की गई है।

आगरा में पिछले दो माह में चार हजार नए स्थायी लाइसेंस लेने के लिए लोगों ने आवेदन किए थे। एनआईसी द्वारा पुराने स्लॉट पर ही नई तारीख की व्यवस्था न कर पाने के कारण परिवहन विभाग को स्थायी लाइसेंस के सभी आवेदन निरस्त करने पड़ेंगे। इससे आवेदकों को लाइसेंस के लिए फिर से जदोजहद करनी पड़ेगी। 26 मई से स्थायी लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया शुरू होने वाली थी। लेकिन इससे पहले से स्लॉट बुक करा चुके आवेदकों को नई तारीख कैसे मिले, यह व्यवस्था नहीं बन रही थी। विभाग ने इस समय के लिए एनआईसी से समाधान कराने की कोशिश की, लेकिन हल नहीं निकला। इसके कारण स्थायी लाइसेंस के सभी आवेदन निरस्त कर दोबारा नए सिरे से आवेदन करने पर सहमति बनाई गई है।

31 जुलाई तक बढ़ाई गई वैद्यता

एआरटीओ प्रशासन एके सिंह ने बताया कि 23 मार्च से छह जून तक मिले सभी स्लॉटों को निरस्त कर दिया गया है। संभवत: सोमवार या मंगलवार से स्थायी लाइसेंस की प्रक्रिया शुरू होने की संभावना है। नए सिरे से आवेदन करना होगा। जिन लोगों की फीस कट चुकी है, उनको फीस जमा नहीं करनी होगी। फरवरी में जिन लोगों के लाइसेंस की वैद्यता समाप्त हो चुकी है, उन लोगों के लाइसेंस की वैद्यता 31 जुलाई तक बढ़ा दी गई है।

अन्य खबरें