पैसे वापस मांगने पर दोस्त ने ली जान, लॉकडाउन में लिए थे उधार

Smart News Team, Last updated: Thu, 5th Aug 2021, 1:32 PM IST
  • आगरा से सटे फिरोजाबाद में सात हजार रुपये की खातिर शख्स ने दोस्त की जान ले ली. हालांकि, पुलिस ने मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और शनिवार को ही इस मामले का खुलासा किया.
सात हजार रुपये की खातिर शख्स ने दोस्त की जान ले ली

आगरा. आगरा से सटे फिरोजाबाद में सात हजार रुपये की खातिर शख्स ने दोस्त की जान ले ली. हालांकि, पुलिस ने मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और शनिवार को ही इस मामले का खुलासा किया. बताया जा रहा है कि लॉकडाउन के दौरान नलकूप ऑपरेटर ने अपने दोस्तों को सात हजार रुपये उधार दिये थे. लेकिन पैसा वापस मांगने पर आरोपी पैसा वापस नहीं दे रहा था. लगातार पैसे के लिए प्रेशर बनाने पर शख्स ने गुस्से में नलकूप ऑपरेटर की हत्या कर दी.

इस मामले के बारे में बात करते हुए एसपी सिटी मुकेशचंद्र मिश्र ने बताया कि थाना दक्षिण प्रभारी श्याम सिंह और एचसीपी लक्ष्मीनारायन नलकूप ऑपरेटर रामप्रकाश की हत्या के मामले की जांच कर रहे थे. इसी बीच उन्हें सूचना मिली कि हत्या में शामिल मालवीय नगर निवासी बल्लू पुत्र रामभरोसी भागने की फिराक में है. पुलिस ने सूचना मिलने पर तत्काल घेराबंदी करके से उसको दबोच लिया.

रिपोर्ट के मुताबिक आरोपी ने नलकूप ऑपरेटर पर पत्थर से प्रहार कर उसकी हत्या की थी. फिरोजाबाद के मालवीय नगर निवासी रामप्रकताश उर्व पप्पू से आरोपी, जिसका नाम बल्लू बताया जा रहा है. उसने लॉकडाउन के दौरान पप्पू से तीन हजार रुपये उधार लिये थे. इसके अलावा मालवीय नगर के ही निवासी विजय उर्फ कल्लू ने भी रामप्रकाश से चार हजार रुपये उधार लिये थे. कुछ दिनों बाद रामप्रकाश दोनों से उधारी की रकम वापस मांगने लगे और पैसे न देने पर दोनों को अपमानित भी किया. इस बात को लेकर गुस्से में आकर बल्लू ने रामप्रकाश की हत्या की साजिश रची.

एसपी सिटी मुकेशचंद्र मिश्र के मुताबिक आरोपी 30 अक्तूबर की शाम को रामप्रकाश उर्फ पप्पू को घर से बुलाकर कन्हैयानगर ले गए थे. दोनों पप्पू को सुनसान जगह पर ले जाकर उसके सिर पर पत्थर प्रहार किया और हत्या कर दी थी. हत्या करने के बाद दोनों फरार हो गए थे. लेकिन बल्लू ने हत्या करने का जुर्म कबूल कर लिया. एसपी सिटी के मुताबिक दूसरी तरफ इसके साथी विजय उर्फ कल्लू ने भी शुक्रवार को न्यायालय में सरेंडर कर दिया. नलकपूर ऑपरेट के दोनों हत्यारों को जेल भेज दिया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें