आगरा में घटिया आजम खां रोड का नाम बदला, VHP के पूर्व अध्यक्ष के नाम पर रखा गया अशोक सिंघल मार्ग

Pallawi Kumari, Last updated: Tue, 28th Sep 2021, 10:52 AM IST
  • आगरा के घटिया आजम खां रोड का नाम बदलकर अशोक सिंघल मार्ग कर दिया गया है. अशोक सिंघल विश्व हिन्दू परिषद के अध्यक्ष रह चुके हैं. राम मंदिर निर्माण आंदोलन में भी अशोक सिंघल की बड़ी भूमिका रही है.
आगरा का घटिया आजम खां रोड अब होगा अशोक सिंघल मार्ग.

आगरा.  आगरा शहर का आजम खां रोड अब अशोक सिंघल मार्ग से जाना जाएगा. सोमवार को स्मार्ट सिटी कक्ष में हुए नगर निगम कार्यकारिणी की बैठक में यह प्रस्ताव लाया गया और सर्वसम्मति से सभी ने इस प्रस्ताव को पास किया, जिसके बाद अब घटिया आजम खां मार्ग को अशोक सिंघल मार्ग के नाम से जाना जाएगा. बैठक में कार्यकारिणी के सदस्यों के प्रस्तावों पर और भी कई सड़कों का नामकरण किया गया है. आगरा के मेयर नवीन जैन ने बताया कि अशोक सिंघल का जन्म उसी क्षेत्र में हुआ था, जहां सड़क का नाम रखा गया है.

आगरा के मेयर ने बताया कि, सड़क का नाम बदले जाने का प्रस्ताव शहीद नगर वार्ड पार्षद जगदीश पचौरी द्वारा पेश किया गया. इसके बाद नगर निगम के 13 वें सत्र में इस प्रस्ताव को स्वीकार किया गया. उन्होंने बताया कि, दिवंगत नेता अशोक सिंघल का जन्म इसी क्षेत्र में सिटी स्टेशन रोड स्थित एक मकान में 27 सितंबर, 1926 को हुआ था.

लखनऊ शर्मसार! ऑटो चालकों ने मंदबुद्धि महिला को बंधक बनाकर किया गैंगरेप

अशोक सिंघल ने 1950 में बीएचयू इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की. इसके बाद उन्होंने अपना पूरा जीवन सामाजिक कार्य में लगा दिया. 1981 में विश्व हिंदू परिषद से जुड़कर इसे पहचान दिलाने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है. राम मंदिर बनाए जाने के आंदोलन में भी उनकी बड़ी भूमिका रही है. देश में हिंदुत्व की भावना को मजबूत बनाने के लिए 1984 में धर्म संसद के आयोजन में अशोक सिंघल ने मुख्य भूमिका निभाई और इसी धर्म संसद में साधु संतों की बैठक के बाद श्री राम जन्मभूमि आंदोलन की नींव पड़ी थी.1989 में अयोध्या में विवादित स्थल के पास राम मंदिर निर्माण की आधारशिला रखने में भी सिंघल का अहम योगदान था. अपनी फायरब्रांड छवि को लेकर लोकप्रिय हुए सिंघल का 2015 में भी निधन हो गया.

घटिया आजम खां मार्ग के बाद कार्यकारिणी में इन सड़कों के नाम बदले जाने के प्रस्ताव भी पास किए गए-

कहरई मोड़ चौराहा का नाम शहीद कौशल रावत

शास्त्रीपुरम चौराहा का नाम भगवान चित्रगुप्त चौक

किदवई पार्क से पुराने पोस्ट आफिस राजामंडी का नाम तात्या टोपे के नाम पर

सुल्तानगंज चौराहा का नाम स्व. सत्यप्रकाश विकल चौक

मधु नगर चौराहा का नाम महाराजा सूरजमल चौक

कांजी हाउस का नाम अब पं.दीनदयाल उपाध्याय

जीवनी मंडी-बेलनगंज रोड का नाम देवी प्रसाद आजाद

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें