हथिनी 'नीना' का मथुरा के अस्पताल में हाइड्रोथेरेपी, लेज़रथेरेपी के ज़रिए इलाज

Smart News Team, Last updated: Wed, 14th Jul 2021, 1:17 PM IST
  • बेसुध हालत में गोरखपुर से मथुरा लाई गई नेत्रहीन हथिनी 'नीना' अब पहले से बेहतर है. वाइल्ड लाइफ एसओएस के अस्पताल में भर्ती हथिनी नीना को गंभीर गठिया की शिकायत थी.
हथिनी 'नीना' की हालत पहले से बेहतर

आगरा: बेसुध हालत में गोरखपुर से मथुरा लाई गई नेत्रहीन हथिनी 'नीना' अब पहले से बेहतर है. वाइल्ड लाइफ एसओएस के अस्पताल में भर्ती हथिनी नीना को गंभीर गठिया की शिकायत थी, जिसकी वजह से वो ठीक से चल नहीं पा रही थी. डॉक्टरों ने नीना का हाइड्रोथेरेपी और लेजरथेरेपी के जरिए इलाज किया.

दरअसल हथिनी नीना को उस वक्त अस्पताल लाया गया था जब वो चलने-फिरने में पूरी तरह से असमर्थ हो गई थी. नीना का मालिक उसका बहुत शोषण करता था. नियंत्रण रखने के लिए वो तीखी नोंक वाले औजार का इस्तेमाल करता था. इतना ही नहीं नीना का मालिक उसे नुकीली जंजीर के ज़रिए कसकर बांधकर रखता था.

आगरा: गश्त पर गए पुलिस वालों से जीजा-साले ने मारपीट कर फाड़ी वर्दी, मुकदमा दर्ज

नुकीली जंजीर में बंधे होने के कारण नीना को लेटने और आराम करने में दिक्कत महसूस होती थी. जब उसे मथुरा के वाइल्ड लाइफ एसओएस लाया गया तो उसे गंभीर गठिया की शिकायत थी. इलाज के दौरान करीब दो हफ्ते तक वो बेसुध रही.

शर्मनाक!विकलांग मां को जंगल में अकेला छोड़कर भागे बेटा-बहू, अब वृद्धाश्रम पहुंची

हथिनी नीना को उसके निर्दयी मालिक से छुड़ाने के लिए सोशल मीडिया पर चले हस्ताक्षर अभियान में बॉलीवुड की हस्तियों ने भी हिस्सा लिया. इनमें आथिया शेट्टी, श्रुति हासन, रणदीप हुड्डा, विवेक ओबरॉय समेत कई कलाकारों ने लोगों से अभियान को समर्थन देने की अपील की थी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें