आगरा

देश के सबसे शक्तिशाली इंजन का आगरा से मथुरा के बीच हुआ ट्रायल

Smart News Team, Last updated: 12/06/2020 05:45 PM IST
  • देश के सबसे शक्तिशाली और मेड इन इंडिया 12 हजार हॉर्स पावर लोकोमोटिव (इंजन) का गुरुवार को आगरा रेल मंडल में ट्रायल किया गया।
भारतीय रेलवे का यह इंजन 120 किलोमीटर प्रतिघंटा की अधिकतम रफ्तार से दौड़ सकता है।

देश के सबसे शक्तिशाली और मेड इन इंडिया 12 हजार हॉर्स पावर लोकोमोटिव (इंजन) का गुरुवार को आगरा रेल मंडल में ट्रायल किया गया। आगरा से मथुरा तक इंजन ने चार चक्कर लगाए। ट्रायल के दौरान लोको पायलटों को अलग अनुभव हुआ। इंजन चलाने वाले दोनों लोको पायलट चार चक्कर लगाने के बाद इस अनुभव से रूबरू हुए कि नए इंजन से रेलवे की दशा-दिशा बदल जाएगी।

बिहार के मधेपुरा इंजन फैक्ट्री में तैयार हुए डब्लूएजी-12बी इंजन का गुरुवार को आगरा रेल मंडल में ट्रायल हुआ। लोको पायलट कौशल शर्मा व राहुल कुमार पंडित ने आगरा से मथुरा तक 100 प्रतिघंटा की स्पीड से इंजन को मेन लाइन पर दौड़ाया।

इंजन को ऑपरेट करने के बाद लोको पायलट कौशल शर्मा ने कहा कि नए इंजन में शक्ति पुराने इंजन से बहुत ज्यादा है। यह इंजन पांच हजार टन तक की क्षमता के भार को आसानी से तेज स्पीड से ले जा सकता है। ड्राइवरों के लिए एसी केबिन के साथ जीपीएस सिस्टम इंजन को विशेष बनाता है। इंजन का थ्रोटल स्मूथ वर्क करता है। पुराने इंजन की अपेक्षा यह बहुत आसान है। केबिन साउंड प्रूफ है और मैनुअल ड्राइवर डिस्पले यूनिट फेल होने की स्थिति में यह टच स्क्रीन के माध्यम से ऑपरेट हो सकता है। स्पीडो मीटर डिजिटल से मदद मिलती है।

गुरुवार को इंजन ने आगरा से मथुरा के बीच चार चक्कर लगाए। सीनियर डीईएन (ऑपरेशन) आफताब अहमद ने बताया कि शुक्रवार को इंजन को लोको पायलट रविन्द्र गिरि व एएल मीना के साथ ट्रायल पर ले जाएंगे। ट्रायल लेने वाले चारों लोको पायलटों को पहले ही ऑनलाइन ट्रेनिंग दी गई थी।

अन्य खबरें