आगरा: 1 दिन की थाना प्रभारी इशिका ने रेप पीड़िता के मेडिकल के दिए आदेश, केस दर्ज

Smart News Team, Last updated: 20/11/2020 02:23 PM IST
  • टीपी नगर थाने में एक दिन के लिए थाना प्रभारी बनी इशिका ने रेप पीड़ित की समस्या सुना. पीड़िता की समस्या को सुनकर मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए. साथ ही पीड़िता से हुए बलात्कार पर मेडिकल जांच करने के आदेश दिये. कार्यक्रमों द्वारा पुलिस निर्देश देना चाहती है कि हम जनता की भलाई के लिए ही काम कर रहे है.
बलात्कार पीड़िता से बात करती एक दिन की थाना प्रभारी इशिका बंसल.(फाइल फोटो)

आगरा. आगरा में मिशन शक्ति के तहत अंतर्राष्ट्रीय बाल दिवस पर इशिका बंसल को एक दिन का थाना प्रभारी बनाया गया. टीपी नगर थाने में एक दिन के लिए थाना प्रभारी बनी इशिका ने  रेप पीड़ित की समस्या सुना. पीड़िता की समस्या को सुनकर मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए. साथ ही पीड़िता से हुए बलात्कार पर मेडिकल जांच करने के आदेश दिये. इस तरह के कार्यक्रम प्रदेश में चलाते हुए पुलिस निर्देश देना चाहती है कि पुलिस जनता की भलाई के लिए ही काम कर रही है

एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने कार्यक्रम पर बात करते हुए बताया था कि इस तरह के कार्यक्रंम का मकसद छात्राओं को यह संदेश देना है कि पुलिस उनकी मदद के लिए काम करती  है. इसलिए पुलिस से घबराने की जरूरत नहीं है. इस कार्यक्रम के लिए इशिका बंसल के नाम का चयन किया गया था. इशिका के बारे में जानकारी दी है कि उनकी कई किताबे प्रकाशित हो चुकी हैं. उनकी पहली किताब तब छपी थी जब वो सातवीं कक्षा में पढ़ती थी. 

विधान परिषद चुनाव: प्रत्याशियों के कार्यालय धार्मिक स्थल से 200 मीटर दूर होंगे

सुबह करीब दस बजे वह थाने का चार्ज संभाला. इशिका पद संभालने के बाद उसी अंदाज में दिशा निर्देश देती नजर आई जैसे थाना प्रभारी देते हैं. उत्तर प्रदेश में  मिशन शक्ति अभियान के तहत इस तरह के कार्यक्रमों का पूरे प्रदेश में आयोजन चल रहा है.  यूनीसेफ के प्रदेश प्रभार ने डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी से मिशन शक्ति को चलाने का आग्रह किया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें