कृष्ण जन्माष्टमी 12 अगस्त को, जानें आगरा में पूजा के लिए सही मुहुर्त

Smart News Team, Last updated: 11/08/2020 08:47 AM IST
  • कृष्ण जन्माष्टमी 12 अगस्त को मनाना सही है. आगरा में पूजा के लिए सही मुहुर्त ज्योतिषाचार्य, डॉ. अरविन्द मिश्र ने बताया. शास्त्र सम्मत एवं ज्योतिषीय दृष्टि से 12 अगस्त का मुहुर्त बताया गया है.
कृष्ण जन्माष्टमी 12 अगस्त को, जानें आगरा में पूजा के लिए सही मुहुर्त

आगरा में भगवान श्री कृष्ण जी का जन्मोत्सव 12 अगस्त भाद्रपद कृष्ण पक्ष अष्टमी तिथि को मनाने का सही मुहुर्त है. शास्त्र सम्मत एवं ज्योतिषीय दृष्टि से इसे सही बताया गया है. ज्योतिषाचार्य, डॉ. अरविन्द मिश्र ने बताया कि 12 अगस्त बुधवार सुबह 11 बजकर 18 मिनट तक अष्टमी तिथि रहेगी. इसी के बाद नवमी तिथि लग जाएगी. 

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जो तिथि सूर्योदय के समय होती है वही उदया तिथि रात्रि तक प्रभावी होती है. 12 अगस्त को सुबह 7 बजकर 37 मिनट पर चंद्रमा भी वृष राशि में आ जाएगा. 12 अगस्त को सुबह 3 बजकर 27 मिनट पर रोहिणी नक्षत्र लग जाएगा. भगवान श्री कृष्ण जी का जन्म रोहिणी नक्षत्र वृष राशि के चंद्रमा और अष्टमी तिथि दिन बुधवार को ही हुआ था.

आगरा आज का राशिफल 11 अगस्त: कन्या वाले सावधान वरना हो सकता है पैसों का नुकसान

इस दिन व्रत कर पूरी रात जागरण किया जाएगा. भगवान की पूजा आराधना की जाती है. ज्योतिषाचार्य, डॉ. अरविन्द मिश्र ने कहा आप ज्योतिषीय दृष्टि से एवं शास्त्र सम्मत उदिया तिथि को ही भगवान श्री कृष्ण जी का जन्मोत्सव मनाएं.

आगरा: पॉश इलाकों में कहर बरपा रहा कोरोना, घर के नौकर न बन जाएं कैरियर

बता दें कि आगरा में कृष्ण जन्माष्टमी के लिए बाजार सज चुके हैं. बाजारों में खरीदारी के लिए भीड़ भी देखने को मिल रही है. हालांकि मंदिरों में इस बार माहौल बेरंग सा है. कोरोना के चलते सभी मंदिर बंद हैं और लोगों को जानें की अनुमति नहीं है. यही कारण है कि जन्माष्टमी के अवसर पर केवल पंडित ही मंदिरों में रहकर पूजा करेंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें