बीहड़ में साथ दिखा तेंदुओं का जोड़ा, गांव में जानवरों को बनाया शिकार

Smart News Team, Last updated: Sat, 5th Dec 2020, 4:50 PM IST
  • आगरा के जैतपुर में गांववालों ने बीहड़ में तेंदुए के जोड़े को देखा गया है. गांव वालों के मुताबिक बीहड़ में नर और मादा शावकों को साथ में देखा गया है. तेंदुओं को लेकर गांव वालों में भी दहशत का माहौल है.
आगरा में बीहड़ में तेंदुए के जोड़े को देखा गया है

आगरा: आगरा के जैतपुर में गांववालों ने बीहड़ में तेंदुए के जोड़े को देखा गया है. गांव वालों के मुताबिक बीहड़ में नर और मादा शावकों को साथ में देखा गया है. तेंदुओं को लेकर गांव वालों में भी दहशत का माहौल है. हैरान करने वाली बात तो यह है कि अब तक गांव में कई जानवर तेंदुओं का शिकार बन चुके हैं. रिपोर्ट के अनुसार जैतपुर क्षेत्र के मऊ गांव में गुरुवार को तेंदुए ने एक बछिया का शिकार किया और उसे मार डाला.

बछिया से पहले तेंदुओं ने गाय को भी अपना शिकार बनाया. दो दिन पहले ही बाह के सिमराई गांव के पास ही बीहड़ में तेंदुओं ने दो गायों की जान ले ली. जानवरों पर हो रहे लगातार हमले के कारण गांवों क लोग भी सहमे हुए हैं. ग्रामीणों में दहशत के साथ ही डर का भी माहौल है. तेंदुओं के डर से ही गांव वालों ने बीहड़ में पशुओं को चराने के लिए ले जाना भी बंद कर दिया है. वहीं, फसलों की देखबाल भी किसान तेंदुए के हमले की दहशत के बीच ही कराने को मजबूर हैं.

आगरा : हॉस्पिटल का भुगतान किए बिना मरीज फरार, मुकदमा दर्ज

तेंदुओं के बारे में बात करते हुए बाह के रेंजर आरके सिंह राठौड़ ने बताया कि नदी किनारे के ग्रामीणों को तेंदुओं के संबंध में जागरुक किया जा रहा है. लोगों को तेंदुए के इलाके वाले स्थानों पर न जाने को सचेत किया गया है. इसके साथ ही विचरण पर नजर रखी जा रही है. इससे इतर आगरा के आसपास के क्षेत्रों में लगातार हो रही तेंदुओं की मौत का भी अभी तक राज नहीं खुल पाया है. 10 अक्टूबर को बाह से सटे इटावा के पसिया गांव के नजदीक भी तेंदुए का शव मिल चुका है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें