आगरा में लव जिहाद, नाम हिंदू बताकर प्यार में फंसाया, शादी के बाद धर्म बदला

Smart News Team, Last updated: Sun, 13th Sep 2020, 8:43 AM IST
  • आगरा में एक लव जेहाद का मामला सामने आया है जिसमें सिकंदरा क्षेत्र की एक किशोरी को सहारनपुर के इकरार ने अपना नाम बदलकर प्रेम जाल में फंसाया था. बाद में उसने किशोरी का धर्म परिवर्तन करा दिया और किशोरी का नाम इकराना रख उससे निकाह कर लिया.
एक युवक ने किशोरी का धर्म परिवर्तन कराने के बाद उससे निकाह किया.

आगरा. यूपी के आगरा में सिकंदरा थाने का लव जेहाद का एक मामला बाल कल्याण समिति तक पहुंच गया है. आरोप है कि सिकंदरा क्षेत्र की एक किशोरी को सहारनपुर के इकरार ने अपना नाम बदलकर प्रेम जाल में फंसाया था. जानकारी के मुताबिक पिछले दिनों घर वालों से किसी बात पर झगड़ा होने पर किशोरी घर से चली गई. जहां से आरोपित उसे हरियाणा लेकर गया और वहां कुछ दिन रखा. उसके बाद किशोरी को लेकर वह अपने गांव आ गया. जहां उसने किशोरी का धर्म परिवर्तन करा दिया और उसका नाम इकराना रख कर निकाह कर लिया. अब पुलिस ने आरोपित को अपहरण, रेप और पॉस्को एक्ट के तरत जेल भेज दिया है. उधर बाल कल्याण समिति ने सुनवाई के बाद किशोरी को परिजनों को सौंप दिया.

आगरा: सोते रह गए दरोगा जी, पुलिस चौकी के पीछे घर से 7 लाख का माल उड़ा ले गए चोर

जानकारी के मुुताबिक शास्त्रीपुरम (सिकंदरा) से लॉकडाउन में 17 वर्षीय एक किशोरी लापता हुई थी. इस पर पिता ने अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था. अब पिछले दिनों किशोरी बरामद हुई. मामला जानकर पुलिस भी हैरानी रह गई. बताया जा रहा है कि फोन पर किशोरी की दोस्ती दानियालपुर, सहारनपुर निवासी इकरार हुई थी. आरोप है कि इकरार ने अपना नाम बदलकर रवि बताया था. फोन पर ही बातचीत के दौरान दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई. इस बीच किशोरी को किसी बात पर घरवालों ने डांटा तो गुस्से में उसने घर छोड़ चली गई. अपने साथ वह हाईस्कूल और इंटरमीडियट की अंकतालिका और 15 हजार रुपए ले गई.

हाईवे पर मिला जूता कारीगर का शव, भाई का शक- प्रेमी संग मिलकर पत्नी ने की हत्या

किशोरी के फोन करने पर इकरार बस स्टैंड लेने आ गया. इकरार पहले किशोरी को गुरुग्राम ले गया जहां दो दिन वो एक होटल में रहे. इसके बाद इकरार उसे हरियाणा के यमुनानगर जिले में ले गया और उसे एक मकान में रखा. आरोपित यही एक फैक्ट्री में नौकरी करता था. जब उसने देखा कि किशोरी किसी तरह का विरोध नहीं कर रही है तो वह अगस्त में उसको अपने गांव ले आया और इमाम से मिलवाकर किशोरी का धर्म परिवर्तन करा दिया. अब उसका नाम इकराना रख दिया और उससे निकाह कर लिया. अब तलाश में जुटी पुलिस ने किशोरी को बरामद कर लिया साथ ही आरोपित को भी पकड़ा गया है.

कानपुर: लड़की की अधजली लाश मिली, रेलवे लाइन पर लड़के का शव, ऑनर किलिंग का शक

मामले में आरोपित को जेल भेज दिया गया है और किशोरी को बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया गया था. अध्यक्ष श्रीगोपाल शर्मा, सदस्य आशा शर्मा, विनीता कुलश्रेष्ठ, डॉ राजश्री ने किशोरी से बातचीत की और उससे पूछा कि वह क्या चाहती है. आयोग ने उसके परिजनों से शपथ पत्र लिया, जिसमें उन्होंने लिखकर दिया कि बालिग होने तक वह बेटी की शादी कहीं नहीं करेंगे. उसके साथ किसी प्रकार की मारपीट और अभद्रता भी नहीं करेंगे फिर किशोरी को परिजनों के सुपुर्द कर किया गया. इस मामले में इंस्पेक्टर सिकंदरा अरविंद कुमार ने बताया कि भले ही वह अपनी मर्जी से गई हो लेकिन प्रमाणपत्र के अनुसार लड़की नाबालिग है. ऐसे में मर्जी से शादी के बावजूद भी अपराध है. कानून कहता है कि नाबालिग को अपने अच्छे बुरे की समझ नहीं होती है. इसलिए आरोपित को जेल भेजा गया है. किशोरी के कोर्ट में भी बयान दर्ज कराए गए थे जहां उसने अपने नाम बदलने और निकाह की जानकारी दी थी. यह बताया था कि दोनों पति-पत्नी की तरह रहते थे. ऐसे में मुकदमे में दुराचार की धारा बढ़ा दी गई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें