आगरा: रास्ते में बिछी दरी को हटाने की बात पर युवक से मारपीट और बवाल

Smart News Team, Last updated: Sun, 14th Feb 2021, 6:55 PM IST
  • आगरा में रास्ते में बिछी दरी को हटाने की बात कहने वाले युवक के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया है. इतना ही नहीं, शख्स के साथ मारपीट के बाद वहां फायरिंग और पथराव भी किया गया, जिसमें छह लोग घायल हो गए.
रास्ते में बिछी दरी को हटाने की बात पर युवक से मारपीट (प्रतीकात्मक तस्वीर)

आगरा में रास्ते में बिछी दरी को हटाने की बात करने के कारण एक युवक के साथ मारपीट की गई, जिसके बाद उस क्षेत्र में बवाल भी हो गया. मामला आगरा के फतेहपुर सीकरी का है, जहां रविवार की सुबह एक विशेष संप्रदाय के युवकों ने बवाल किया, साथ ही दूसरे संप्रदाय के युवक को अपने मोहल्ले में ले जाकर मारपीट की भी. इतना ही नहीं, युवक के बचाव में आए उसके परिवार के साथ ही लोगों ने मारपीट की. यहां तक की फायरिंग भी हुई.

फतेहपुर सीकरी में हुए इस बवाल में करीब छह लोग घायल हो गए हैं, जिन्हें मेडिकल के लिए आगरा लाया गया है. बताया जा रहा है कि फतेहपुर सीकरी के चूड़ी बाजार में अल्पसंख्यक समुदाय के लोग दरी बनाते हैं और गली में दरी बिछाकर ही वह काम करते हैं. वहं, कादऊ मोहल्ले का रहने वाला दिनेश अपनी बहन के साथ यहां से पैदल निकला. दिनेश ने रास्ते में पड़ी दरी को हटाने की बात कही तो वह अभद्रता पर उतर आए. उन्होंने दिनेश के विरोध करने पर मारपीट भी की.

आगरा होते हुए स्टैचू ऑफ यूनिटी, ज्योतिर्लिंग और उज्जैन दर्शन कराएगी ये ट्रेन

वह दिनेश को अपने मोहल्ले में ले गए. तभी दिनेश की बहन कृष्णा ने मामले की जानकारी अपने परिवार को दी, जिससे परिवार और मोहल्ले के लोग उसे बचाने पहुंचे. लेकिन वहां पहुंचते ही अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने उनपर पथराव और फायरिंग कर दी. इसमें दिनेश, दिनेश का भाई संजय, कुंवरवती देवी और छह लोग घायल हो गए हैं. घायलों को जहां पुलिस ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया है तो वहीं तनाव की स्थिति को देखते हुए मोहल्ले में पुलिस की तैनाती भी कर दी गई है. पुलिस ने मामले को लेकर कहा है कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा और कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें