नए साल पर कोरोना गाइडलाइन की उड़ी धज्जियां, ब्रज के मंदिरों में बिना मास्क के दिखे हजारों श्रद्धालु

Mithilesh Kumar Patel, Last updated: Sat, 1st Jan 2022, 7:55 PM IST
  • नए साल पर मथुरा और वृंदावन में लाखों श्रद्धालुओं का हुजुम बिना सोशल डिस्टेंसिंंग व मास्क पहनें के ठाकुरजी का दर्शन पाने के लिए उमड़ पड़ा. इस दौरान कोरोना गाइडलाइन से लोग बेपरवाह दिखें. लापरवाही बरतने वाले हजारों श्रद्धालुओं को रोक पाने में प्रशासन व मंदिर प्रबंधन की व्यवस्थाएं पूरी तरह फेल नजर आईं.
ब्रज के मंदिरों में बिना मास्क के दिखे हजारों श्रद्धालु

आगरा. दुनियाभर में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं और अपने देश में ये आकड़ा 14 सौ के पार पहुंच गया है. बीते 24 घंटों में कोरोनो वायरस के नए मामलों की संख्या 22 हजार 7 सौ 75 और 406 लोगों की मौत हौ चुकी है. फिर भी तेजी बढ़ते सक्रमण के खतरे के बीच लोग घोर लापरवाही बरतने में बिल्कुल भी पीछे नही हट रहे हैं. दरअसल आज नए साल की शुरुआत के मौके पर मथुरा और वृंदावन यानी ब्रज में लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं का हुजुम बिना सोशल डिस्टेंसिंंग और बिना मास्क के अपने ठाकुरजी का दर्शन पाने के लिए उमड़ पड़ा. इस दौरान लोगों ने कोरोना संक्रमण से बेपरवाह दिखें. लापरवाही बरतने वाले हजारों श्रद्धालुओं को रोक पाने में प्रशासन और मंदिर प्रबंधन की व्यवस्थाएं पूरी तरह फेल नजर आईं. ये हाल तब है जब देश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या करीब 1 लाख 4 हजार के पार पहुंच गई है 

शनिवार सुबह कोरोना प्रोटोकॉल को नजरअंदाज कर हजारों की संख्या में वृंदावन पहुंचें श्रद्धालुओं ने ठाकुर बांकेबिहारी के दर्शन किया. बताया जा रहा है कि मंदिर से जुड़ी गलियां दिन भर खचाखच भरी रहीं. इलाके में चारों तरफ श्री बांकेबिहारी और श्री राधारानी की जयजयकार के स्वर गूंजते रहे. भीड़ को देखते हुए पुलिस की ओर मंदिर में दर्शन के लिए वनवे व्यवस्था की गई थी जिसे भारी संख्या में उमड़ी भीड़ ने ध्वस्त कर दिया. मंदिर के सभी गेटों से श्रद्धालु प्रवेश करते नजर आए. मंदिर की गलियों में हालात और भी बदतर दिखी. चिंताजनक बात यह है कि इनमें से ज्यादातर श्रद्धालु बिना मास्क के दर्शन करने पहुंचे थे.

फरवरी में पीक पर होगा Corona का नया वेरिएंट Omicron, कानपुर IIT के प्रोफेसर का दावा

नए साल के मौके पर मथुरा के द्वारकाधीश मंदिर में राजाधिराज के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं का भारी भीड़ उमड़ पड़ा. शनिवार को भीड़ द्वारकाधीश मंदिर से विश्राम घाट तक बरकरार रहा. राजाधिराज के दर्शन कर पूरे साल शुभमंगल कामना के साथ भले ही श्रद्धालुओं ने नए साल की शुरुआत की मगर इस दौरान वह कोविड के खतरे से खुद बेखबर नजर आए.  इसके आलावा ब्रज नगरी के गिरिराज धाम भी लाखों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचे. गिरिराजजी की शरण में मत्था टेका और दानघाटी, मुकुट मुखारविंद मंदिर में पूजा-अर्चना कर मनौती मांगी. इस दौरान भीड़ के चलते सड़कों पर जाम की स्थिति रही.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें