संतों में सियासत! अखिल भारतीय परिषद के हुए दो हिस्से, एक जैसे नाम के 2 महंत बने अध्यक्ष

Prachi Tandon, Last updated: Tue, 26th Oct 2021, 7:16 AM IST
  • अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद में फाड़ की चर्चा सामने आ रही है. एक ही नाम के दो लोगों को अखाड़ा परिषद का अध्यक्ष बना गया गया है. रविंद्रपुरी नाम के दो लोग अध्यक्ष बन गए हैं.
प्रयागराज में परिषद की बैठक में को संबोधित करते महंत.

प्रयागराज. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के दो हिस्से होते दिखाई दे रहे हैं. हरिद्वार में 20 अक्टबूर को इस मुद्दे पर चर्चा भी की गई थी. प्रयागराज में पहले की गई बैठक और परिषद की मीटिंग पर सोमवार को मुहर लगाई गई है. दो बैठक होने के बाद दो अध्यक्ष बनकर सामने आ गए हैं. दोनों अध्यक्षों के नाम एक जैसे हैं. दोनों को जहां से महंत बनाया गया वह दोनों अलग-अलग अखाड़े हैं.

20 अक्टूबर को आयोजित की गई बैठक में महानिर्वाणी अखाड़े के रविंद्र पुरी को अध्यक्ष चुना गया है. प्रयागराज में सोमवार को निरंजनी अखाड़ा परिसर से कहा गया कि सोमवार को परिषद की बैठक में तपोनिधि पंचायती अखाड़ा श्रीनिरंजनी के सचिव महंत रविंद्रपुरी अध्यक्ष चुने गए. प्रयागराज की बैठक में आठ अखाड़ों के समर्थन से अध्यक्ष चुने जाने की बात कही जा रही है. 

वहीं हरिद्वार में हुई बैठक में सात अखाड़ों के समर्थन में अध्यक्ष चुने जाने की बात कही गई थी. इस चयन के बाद अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के दो हिस्से हो गए हैं.अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद में एक धड़े के अध्यक्ष महानिर्वाणी अखाड़े के सचिव महंत रविंद्रपुरी हैं तो दूसरे के निरंजनी अखाड़े में सचिव महंत रविंद्रपुरी हैं. 

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के नए अध्यक्ष बने महंत रवींद्र पुरी, PM मोदी पर बोले...

बता दें कि अखाड़ा परिषद के महंत की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी. जिसके बाद कई तरह के सवाल उठाए गए थे क लालच और सत्ता के लिए महंत को मौत के घाट उतार दिया है. महंत मौत मामले की जांच सीबीआई के पास चली गई है. जिसमें सीबीआई महंत से जुड़ी हर जानकारी जुटाने में लगी है. सोमवार को नरेंद्र गिरि नाथ की अधिवक्ता के घर पहुंची औक महंच ते पिता और बेटे से बात की. महंत मौत मामले में पिता और बेटे से उनके खिलाफ केस दर्ज होने की जानकारी ली है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें