राजस्थान में पुजारी की हत्या पर आगरा में दिखा आक्रोश.

Smart News Team, Last updated: 11/10/2020 01:23 PM IST
  • राजस्थान के करौली में जमीनी विवाद को लेकर पुजारी को जिंदा जलाकर हत्या करने पर आगरा में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने विरोध जताया है. इसके साथ ही कार्यकर्ताओं ने राजस्थान सरकार पर निशाना साधते हुए वहां राष्ट्रपति शासन की भी मांग की है.
राजस्थान में पुजारी की हत्या पर आगरा के लोगों में भी आक्रोश देखने को मिला

आगरा: राजस्थान के करौली में जमीनी विवाद को लेकर पुजारी को जिंदा जलाकर हत्या करने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. इतना ही नहीं, इस मामले को लेकर आगरा के लोगों में भी आक्रोश देखने को मिला. पुजारी के जिंदा जलाकर मारने को लेकर राजस्थान सरकार के खिलाफ आगरा में काफी प्रदर्शन भी किये जा रहे हैं. प्रदर्शनकारियों ने कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए राजस्थान में राष्ट्रपति शासन लगाने की भी मांग की है.

आगरा के सदर थाना क्षेत्र के अंतर्गत कैंट चौराहे पर बीते दिन बजरंग दल के लोगों ने प्रदर्शन किया और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व कांग्रेस सरकार का पुतला भी फूंका. इसके साथ ही बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने राजस्थान सरकार व कांग्रेस के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की. प्रदर्शनकारियों ने इस दौरान सरकार पर आरोप लगाया कि पुजारी के जिंदा जलाकर मारने पर राजस्थान सरकार चुप्पी साधे बैठी है. बजरंग दल ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि वह भी वहां नहीं जा रहे हैं और युपी में गलत राजनीति के लिए लगातार आवाजाही कर रहे हैं.

सावधान! फेसबुक पर कपल्स चैलेंज पड़ सकता है महंगा, पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन के दौरान आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की भी मांग की. उन्होंने पुजारी के परिवार को उचित मुआवजा और कांग्रेस शासित राज्यों में राष्ट्रपति शासन की भी मांग की. बता दें कि राजस्थान के करौली में जमीनी विवाद और झगड़े के कारण बाबूलाल नामक पुजारी को कैलाश मीणा नाम के व्यक्ति ने जिंदा जला दिया, जिससे पुजारी की मौत हो गई. इस मामले को लेकर ग्रामीणों में भी आक्रोश देखने को मिला. उन्होंने सरकार से 50 लाख की आर्थिक सहायता, सरकारी नौकरी, सुरक्षा और आरोपियों के गिरफ्तारी की मांग भी की है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें