शॉर्टकट का चक्कर : एसएन मेडिकल कॉलेज के गेट से जान जोखिम में डालकर पार हो रहे लोग

Indrajeet kumar, Last updated: Tue, 9th Nov 2021, 11:25 AM IST
  • आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज के दूसरे गेट से लगातार लोग जान जोखिम में डालकर ऊपर से पार होते हैं. सोशल मीडिया पर ऐसा ही एक फोटो वायरल हो रहा है जिसमें महिला गेट के ऊपर नुकीली कीलों को पार कर के गेट से कूद रही है. एसएन मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने अवैध पार्किंग कि समस्या के वजह से इस गेट को बंद करवा दिया है.
साभार सोशल मीडिया

आगरा. आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज के दूसरे गेट से लगातार लोग ऊपर चढ़ के पार होते हैं. कई दिनों से सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रहा है जिसमें एक महिला गेट के ऊपर से पार हो रही है. इस बंद गेट पर पार होने के दौरान मौके पर मौजूद लोग महिला को माना भी कर रहे हैं. लेकिन महिला किसी की नहीं सुन रही है और अपनी जान जोखिम में डालकर दूसरी ओर कूद जाती है. जिस गेट से महिला कूद रही है उसकी इंचाई लगभग 7 से 8 फीट है. इस गेट का उपाई हिस्सा काफी धारदार और नुकीला है. जो किसी इंसान को नुकसान पहुंचा सकता है.

स्थानीय लोगों ने बताया कि कि एसएन मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने इस गेट को बंद करवा दिया है. लेकिन फिर भी लोग मानते नहीं और मनमानी तरीके से गेट के ऊपर से पार हो जाते हैं. शॉर्टकट के चक्कर में हर रोज सैकड़ों लोग अपनी जान जोखिम में डाल के इस गेट से पार होते हैं. महिला जब गेट पर चढ़ती है तो पास खड़े लोग ने उसे आगाह किया कि उसकी साड़ी गेट के ऊपरी नुकीली हिस्से में फंस गई है. लेकिन महिला ने फंसे साड़ी को नुकीले कील से निकलते हुए ऊपर से कूद जाती है. इसके बाद महिला अपनी बेटी को भी गेट से पर होने को बोलती है जिसके बाद उसकी बेटी भी गेट पर चढ़कर पर हो जाती है. शॉर्टकट के चक्कर में लोग अपनी जान जोखिम में डालने को भी तैयार हैं.

आगरा में IPL की तर्ज पर वुमन क्रिकेट चैंपियनिशिप, पूनम यादव और दीप्ति शर्मा होंगी हिस्सा

गेट क्यों बंद रखे जाने के मामले में एसएन मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल डॉ प्रशांत गुप्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि यह गेट मार्केट की तरफ खुलता है. मार्केट के कुछ लोग अपनी गाड़ियां अंदर खड़ी कर दिया करते थे. जिससे मेडिकल कॉलेज के कामों में दिक्कतें आती थी. इस गेट के अंदर खाली जगहों का इस्तेमाल लोग पब्लिक पार्किंग के तौर पर करने लगे थे. इसके अलावा रात के समय में कुछ लोग अंदर आकार शराब भी पीते थे. इस सभी कारणों से इस गेट को बंद कर दिया गया है. इस गेट पर कॉलेज प्रशासन ने एक पोस्टर भी चिपकाया है कि एसएन मेडिकल कॉलेज परिसर में प्रवेश करने के लिए मेन गेट का इस्तेमाल करें, यह गेट बंद है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें