अवैध शराब कि बिक्री रोकने के लिए पुलिस ने शुरू की मुहीम, ग्रामीणों को दिलाई शपथ

Smart News Team, Last updated: Tue, 2nd Feb 2021, 1:25 PM IST
  • आगरा के ग्रामीण क्षेत्रों में अवैध शराब की बिक्री पर रोक लगाने के लिए पुलिस ने सख्ती से मुहीम शुरू कर दी है. अवैध शराब की बिक्री की रोथाम के लिए गांव-गांव जाकर आगरा पुलिस ने न केवल ग्रामीणों के साथ बैठक की, बल्कि अवैध शराब न बिकने देने की शपथ भी दिलाई.
अवैध शराब कि बिक्री रोकने के लिए पुलिस ने शुरू की मुहीम, ग्रामीणों को दिलाई शपथ (प्रतीकात्मक तस्वीर)

आगरा के ग्रामीण क्षेत्रों में अवैध शराब की बिक्री पर रोक लगाने के लिए आगरा पुलिस ने ग्रामीणों के साथ मिलकर ही सख्ती से मुहीम शुरू कर दी है. अवैध शराब की बिक्री की रोथाम के लिए गांव-गांव जाकर आगरा पुलिस ने न केवल ग्रामीणों के साथ बैठक की, बल्कि उन्हें अवैध शराब न बिकने देने की शपथ भी दिलाई. आगरा जिले में एसएसपी बबलू कुमार के निर्देश में यह अभियान चलाया जा रहा है, जिससे अवैध शराब की बिक्री रोकी जा सके.

बता दें कि आगरा के एत्मादपुर के गांव नगला तुलसी, नया बास और अगवार में शराब पीने के बाद तीन लोगों की मौत का मामला सामने आया था. इसके बाद ही पुलिस ने अवैध शराब बिक्री रोकने के लिए अभियान की शुरुआत की. आगरा पुलिस ने अवैध शराब बेचने वालों पर कार्रवाई के साथ ही जनता से जुड़ाव का भी प्रयोग किया. सभी थाना प्रभारियों ने अपने-अपने क्षेत्र के गांवों में बैठक की और लोगों को शराब बिकने और पीने के दुष्परिणामों के बारे में भी बताया.

अमेजन के कंटेनरों से चुराते थे सामान, मुठभेड़ में सरगना सहित नौ आरोपी गिरफ्तार

आगरा पुलिस ने ग्रामीणों को अवैध शराब गांव में न बिकने देने की शपथ भी दिलाई. पुलिस ग्रामीणों से आग्रह कर रही है कि अवैध शराब बेचने वालों की सूचना तुरंत उन्हें दें, जिससे वह तत्काल कार्रवाई करें. बता दें कि एसओ खंदौली अरविंद निर्वाल ने सराय दायरूपा, लालगढ़ी, बमान, नगला रंबल आदि गांवों में बैठक की. जहां सराय दायरूपा और लालगढ़ी में पांच वर्ष पहले जहरीली शराब के सेवन से एक-एक व्यक्ति की जान चली गई थी तो वहीं शमसाबाद के नगला सूरजभान में पुलिस ने कच्ची शराब बेचने वालों की पुलिस ने तलाश की. आगरा पुलिस का यह अभियान जिले के अलग-अलग गांव में अभी भी जारी है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें