बाह को जिला बनाने की मांग पर घनश्याम भारतीय को थाने ले गई पुलिस

Smart News Team, Last updated: Tue, 15th Dec 2020, 12:45 AM IST
  • आगरा में बीते दिन गुस्साए ग्रामीणों द्वारा बाह कोतवाली का घेराव करने का मामला सामने आया है. ग्रामीणों में बाह को जिला बनाने की मांग करने वाले टीम भारतीय प्रमुख घनश्यमाम भारतीय को पुलिस द्वारा अपने साथ थाने ले जाने पर आक्रोश था.
फाइल फोटो

आगरा: आगरा में बीते दिन गुस्साए ग्रामीणों द्वारा बाह कोतवाली का घेराव करने का मामला सामने आया है. ग्रामीणों में बाह को जिला बनाने की मांग करने वाले टीम भारतीय प्रमुख घनश्यमाम भारतीय को पुलिस द्वारा अपने साथ थाने ले जाने पर आक्रोश था. ऐसे में ग्रामीणों ने कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष मनोज दीक्षइत और सपा जिला उपाध्यक्ष सुधीर दुबे के नेतृत्व में पुलिस की गाड़ी रोककर डेढ़ घंटे तक हंगामा किया. ग्रामीणों के साथ इसमें कुछ कार्यकर्ता भी शामिल थे.

वहीं, दूसरी और टीम भारतीय प्रमुख घनश्याम भारतीय के विरुद्ध पुलिस शांतिभंग में कार्रवाई कर उन्हें एसडीएम कोर्ट में ले गई. यहां मुचलके पर उन्हें रिहा कर दिया गया. बता दें कि टीम भारतीय प्रमुख काफी समय से बाह को जिला बनाने की मांग कर रहे हैं. इस सिलसिले में उन्होंने एसडीएम को पत्र लिखकर रविवार से बटेश्वर में अकेले ही धरना देने का भी ऐलान किया था. उनके ऐलान के बाद शनिवार देरशाम बाह पुलिस उनके घर पहुंच गई और उन्हें साथ में थाने ले गई.

SN मेडिकल कॉलेज में जनरल सर्जरी के लिए बढ़ा दबाव, तारीखें लेकर ही लौटे मरीज

घनश्याम भारतीय को थाने ले जाने की जानकारी पर कांग्रेस व सपा कार्यकर्ताओं के साथ ग्रामीण भी वहां पहुंच गए और उन्होंने घनश्याम भारतीय को थाने लाने का कारण जानने की भी मांग की. घनश्याम भारतीय को पुलिस मेडिकल के लिए लेकर जा रही थी, जिस बीच कार्यकर्ताओं और ग्रामीणों ने गाड़ी रोककर काफी देर तक नारेबाजी भी की. इस बारे में इंस्पेक्टर विनोद कुमार ने बताया कि घनश्याम के विरुद्ध शांतिभंग की कार्रवाई की गई है, जिसकी वजह से उन्हें एसडीएम कोर्ट ले जाया गया. हालांकि, यहां उन्हें मुचलके पर रिहा कर दिया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें