SN मेडिकल कॉलेज में जनरल सर्जरी के लिए बढ़ा दबाव, तारीखें लेकर ही लौटे मरीज

Smart News Team, Last updated: 14/12/2020 04:54 PM IST
  • आगरा में एसएन मेडिकल कॉलेज में जनरल सर्जरी शुरू कर दी गई है. लेकिन जनरल सर्जरी के शुरू होने के बाद से ही हॉस्पिटल में डॉक्टरों पर ऑपरेशन का दबाव भी बढ़ गया है. हालात यह हो गए हैं कि ज्यादा पंजीकरण हो जाने के कारण मरीजों को तारीखें भी नहीं मिल रही हैं.
फाइल फोटो

आगरा: आगरा में एसएन मेडिकल कॉलेज में जनरल सर्जरी शुरू कर दी गई है. लेकिन जनरल सर्जरी के शुरू होने के बाद से ही हॉस्पिटल में डॉक्टरों पर ऑपरेशन का दबाव भी बढ़ गया है. हालात यह हो गए हैं कि ज्यादा पंजीकरण हो जाने के कारण मरीजों को तारीखें भी नहीं मिल रही हैं. इतना ही नहीं, कई मरीजों को सर्जरी के लिए 20 से 30 दिन बाद तक की भी तारीखें दी जा रही हैं. वहीं, जिन मरीजों को सर्जरी की जल्दी है या ज्यादा परेशानी है, वह लगातार ऑपरेशन जल्दी कराने के लिए चक्कर काट रहे हैं.

बताया जा रहा है कि रोजाना करीब 20 से 25 ऑपरेशन हॉस्पिटल के चारों विभाग में रोजाना किये जा रहे हैं. कुछ मरीजों को तारीखें लेकर ही लौटना पड़ रहा है. बताया जा रहा है कि 2 नवंबर से ओपीडी शुरू हो गई थी, जिसके बाद से ही ऑपरेशन के लिए रजिस्ट्रेशन होना भी शुरू हो गए थे. इसमें सर्जरी, हड्डी, ईएनटी और कैंसर रोग विभाग में रोजाना करीब 40 से 50 मरीजों का पंजीकरण हो रहा है. इसके साथ ही हॉस्पिटल में पथरी, अपेंडिक्स, बवासीर, आंत, पित्त की थैली, कान, कैंसर और कूल्हे, आदि के ऑपरेशन के लिए ज्यादा मामले आ रहे हैं.

आगरा से जयपुर सफर करने में होगी एक घंटे की बचत, इलेक्ट्रिक इंजन से दौड़ेगी ट्रेन

हॉस्पिटल पर सर्जरी को लेकर बढ़े दबाव के बारे में बात करते हुए सर्जरी विभागाध्यक्ष डॉ. रिचा जैमन ने बताया कि ओपीडी शुरू होने के बाद जनरल सर्जरी भी की जा रही है. गंभीर हाल के मरीजों को प्राथमिकता दी जा रही है, जबकि बाकी के मरीजों को आगे की तारीख देकर ऑपरेशन के लिए बुलाया जा रहा है. बताया जा रहा है कि हॉस्पिटल में दूसरे शहरों और राज्यों से भी मरीज सर्जरी के लिए आ रहे हैं, जिनका पंजीकरण कराने के बाद उन्हें आगे की तारीख दी जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें