1 अप्रैल से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेंहू की खरीद, केंद्रों पर किसानों को विशेष

Smart News Team, Last updated: Tue, 30th Mar 2021, 10:34 AM IST
  • एक अप्रैल से 48 गेहूं खरीद केंद्रों पर किसानों से 1975 रुपये प्रति कुंतल न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद की जाएगी.गेंहू बेचने के लिए प्वाइंट आफ सेल मशीन से बायोमैट्रिक कराया जाएगा तभी किसान गेहूं बेच सकेंगे.किसानों को असुविधा न हो इसका ध्यान रखा जाएगा.
किसान आंदोलन के बीच यूपी में CM योगी के निर्देश पर बनेंगे 5000 गेंहू खरीद केंद्र

आगरा। जहां एक तरफ किसान न्यूनतम समर्थन मूल्य समाप्त हाेने की आशंका जता रहे हैं, वहीं सरकार की तरफ से गेहूं खरीद की तैयारी पहले से ही की जा चुकी है. एक अप्रैल से 48 गेहूं खरीद केंद्रों पर किसानों से 1975 रुपये प्रति कुंतल न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद की जाएगी. बीते साल से बढ़े हुए न्यूनतम समर्थन मूल्य से किसान काफी खुश हैं. बहुत से किसान फसल कटाई की तैयारी भी कर ली है. अप्रैल के दूसरे सप्ताह से गेहूं खरीद केंद्रों पर वाहनों की कतारें लगने लगेंगी.

गेहूं खरीद केंद्रों पर किसी भी तरह गड़बड़ी को होने से रोकने के लिए इस बार शासन बहुत गंभीर है. इस बार गेंहू बेचने के लिए प्वाइंट आफ सेल मशीन से बायोमैट्रिक कराया जाएगा तभी किसान गेहूं बेच सकेंगे. पूरे जिले में कुल 1.23 लाख हेक्टेयर में गेहूं की पैदावार होती है. ज्यादातर किसान सरकारी क्रय केंद्र पर ही गेहूं बेचना चाहते हैं, जिससे उनको फसल का उचित मूल्य मिल सके. इस बार से सभी गेंहू खरीद केंद्र पर प्वाइंट आफ सेल मशीन लगाई जाएगी, जिसमें सभी पंजीकृत किसानों का रिकार्ड दर्ज होगा.

CM योगी का बड़ा बयान, यूपी में अब कोई मजदूर सड़क पर सोने को नहीं होगा मजबूर

इस मशीन से बायोमैट्रिक होते ही किसानों के आधार कार्ड से उनकी पहचान का मिलान हो जाएगा. खरीद केंद्र पर व्यवस्थाएं दुरुस्त रखे जाने और आने वाले सभी किसानों के लिए हर समय पानी की उपलब्धता रखने के निर्देश भी दिए गए हैं. किसानों को किसी प्रकार की कोई मुश्किल न हो इसलिए केंद्रों की संख्या भी इस बार बढ़ा दी गई है. बीते वर्ष कुल 43 केंद्रों पर खरीद हुई थी इसी के साथ ही गत वर्ष गेहूं खरीद का लक्ष्य भी 29 हजार मैट्रिक टन था.

कानपुर : नगर निकाय के 3 वार्डों के लिए 31 मार्च से नॉमिनेशन, 4 मई को वोटिंग

इस बार शासन द्वारा कोई लक्ष्य निर्धारित नहीं किया गया है, लेकिन सभी केंद्रों पर किसानों की सुविधाओं का विशेष ध्यान रखे जाने के निर्देश दिए गए हैं. जिला खाद विपणन अधिकारी अजय विक्रम ने जानकारी देते हुए बताया कि 48 केंद्रों पर खरीद एक अप्रैल से शुरू हो जाएगी. किसानों को असुविधा न हो इसका ध्यान रखा जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें