आगरा में 26 अक्टूबर से खोले जा सकते हैं स्कूल, इन बातों का रखना पड़ेगा ध्यान

Smart News Team, Last updated: 11/10/2020 12:50 PM IST
  • आगरा में अनलॉक 5.0 के दौरान 26 अक्टूबर से स्कूल खोले जाने की उम्मीद जताई जा रही है. इस विषय में चर्चा करने के लिए जिलाधिकारियों ने आप्सा संगठन पदाधिकारियों को 20 अक्टूबर को बातचीत के लिए बुलाया है.
आगरा में अनलॉक 5.0 के दौरान 26 अक्टूबर से स्कूल खोले जाने की उम्मीद जताई जा रही है

आगरा: कोरोना वायरस जैसी महामारी के बीच धीरे-धीरे सभी चीजें पटरियों पर आ रही हैं. लेकिन आगरा जैसे शहर में बताया जा रहा है कि 15 अक्टूबर से स्कूल नहीं खुलेंगे. इस विषय में बीते गुरुवार को आप्सा के प्रतिनिधिमंडल ने जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह से भी मुलाकात की. संगठन के पदाधिकारियों ने इस विषय को लेकर 20 अक्टूबर को दोबारा बातचीत के लिए बुलाया है. इस मुलाकात में स्थिति का आंकलन करके स्कूल खोले जाने पर चर्चा की जाएगी. बताया जा रहा है कि 26 अक्टूबर से स्कूल खोले जाने की आशंका है.

स्कूल खोले जाने के विषय में बातचीत करते हुए आप्सा के अध्यक्ष डॉ. सुशील गुप्ता ने बताया कि इस मामले को लेकर जिलाधिकारी को ज्ञापन दे दिया गया है. इसके साथ ही जिलाधिकारी को अभिभावकों की सहमति जानने के लिए बनाया गया पत्र भी सौंपा गया है. वहीं, जिलाधिकारी ने पत्र के पढ़ने के बाद पहले वरिष्ठ कक्षा के विद्यार्थियों को बुलाने के लिये कहा है. इसके साथ ही जिलाधिकारी ने कहा है कि वह स्कूलों को सहमति लेने के लिए चार से पांच दिनों का समय देंगे, जिससे 26 अक्टूबर से स्कूलों को खोला जा सके. संस्था के सचिव डॉ. गिरधर शर्मा ने भी जिलाधिकारी की ओर से स्कूल खोले जाने के दिशा-निर्देश दिये जाने की उम्मीद जताई है.

कर्ज चुकाने के लिए शख्स ने किया अपना ही अपहरण, परिवार से की 50 हजार रु. की मांग

अनलॉक 5.0 से दौरान कक्षा में सीटिंग प्लान सामाजिक दूरी को ध्यान में रखते हुए किया जाएगा. वहीं, ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों माध्यमों से पढ़ाई कराए जाने की भी उम्मीद है. इस मामले में बात करते हुए नप्सा के अध्यक्ष संजय तोमर ने बताया कि विद्यार्थियों को पानी की बोतल व खाने का टिफिन घर से ही लाना होगा. आगरा के स्प्रिंगडेल स्कूल के निदेशक रवि भल्ला ने बताया कि कोई भी स्कूल बिना टीसी के विद्यार्थियों को प्रवेश नहीं देगा और पंजीकरण कराने वाले विद्यार्थियों को ही परीक्षा में बैठने की अनुमति दी जाएगी. इससे इतर यूपी बोर्ड के राजकीय व एडेड विद्यालयों में अभी विद्यालयों को खोले जाने के जुड़ी कोई भी तैयारी नहीं की जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें