भाभी से रेप का आरोप नहीं झेल पाया किशोर, गिरफ्तारी के पहले पेड़ से लटककर दी जान

Smart News Team, Last updated: 05/10/2020 05:01 PM IST
  • मैनपुरी के गूदेला गांव में भाभी के रेप के आरोप में गिरफ्तार होने के डर से 16 वर्षीय किशोर ने साड़ी के फंदे से पेड़ पर लटककर खुदकुशी कर ली. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.
आगरा में भाभी के रेप के आरोप में 16 वर्षीय किशोर ने सुसाइड कर ली.

आगरा. आगरा में 16 वर्षीय लड़के ने गिरफ्तारी के डर से खुदकुशी कर ली. बताया जा रहा है कि लड़के के भाई ने उस पर भाभी को छेड़ने का आरोप लगाया था. जिसके बाद उस पर मुकदमा दर्ज कराया गया. जब पुलिस उसे गिरफ्तार करने पहुंची तो आरोपी ने साड़ी के फंदे से पेड़ पर फांसी लगाकर सुसाइड कर ली. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

एसपी मैनपुरी अजय कुमार पांडेय ने कहा कि मृतक के भाई ने आरोपी किशोर पर भाभी के साथ रेप का आरोप लगाकर मुकदमा दर्ज कराया था. पुलिस की आरोपी की तलाश कर रही है. संभवतः ग्लानि बस उसने फांसी लगाकर आत्महत्या की है. शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

21 महीने बाद भी नहीं मिला आगरा की बेटी संजलि को इंसाफ, जमानत पर छूट गया आरोपी

ये मामला आगरा के गूदेला गांव का है. गूदेला निवासी लक्ष्मण सिंह ने पुलिस में अपने भाई के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. लक्ष्मण सिंह का आरोप था कि उसके 16 वर्षीय भाई विजयपाल पुत्र गणेश ने रविवार रात को उसकी पत्नी के साथ जबरन दुष्कर्म किया. जिसके बाद पीड़िता की मेडिकल जांच कराई गई है.

आगरा में अवैध रूप से चल रहे हुक्का बार का वीडियो वायरल, पुलिस ने कहा- पुराना है

सोमवार की सुबह पुलिस आरोपी को हिरासत में लेने पहुंची तो वो और उसके पिता दोनों गायब मिले. सुबह 8 बजे जब ग्रामीण खेतों की तरफ गए तो उनको विजयपाल का शव पेड़ पर साड़ी के फंदे पर लटका मिला. जिसके बाद पूरे गांव में कोहराम मच गया. 

थोड़े से पैसों के लिए दबंगों ने घर में घुसकर परिवार को पीटा, वीडियो CCTV में कैद

घटना की जानकारी मिलते ही एसडीएम अनिल कुमार कटियार, सीओ कुरावली दद्दन प्रसाद गौड़ और थाना प्रभारी पहलवान सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे. शव को उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. आपको बता दें कि मृतक के पिता ने दो शादियां की थीं. मृतक विजयपाल दूसरी पत्नी का बेटा था.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें