आगरा: घर से निकलते ही रोके गए प्रदेशव्यापी आंदोलन के लिए जा रहे सपा नेता

Smart News Team, Last updated: Tue, 22nd Sep 2020, 12:38 AM IST
  • समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश व्यापी आंदोलन के तहत आगरा में जिला प्रशासन से प्रदर्शन की अनुमति मांगी थी. अनुमति न मिलने के बाद भी पार्टी कार्यकर्ता सदर तहसील के लिए निकलने वाले थे जिस कारण उन्हें घर पर ही रोक दिया गया.
सदर तहसील पर प्रदर्शन के लिए जाते समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं को रोकती पुलिस

आगरा: शहर में सोमवार को समाजवादी पार्टी नेताओं को धरना-प्रदर्शन करने से निकलते वक्त ही रोक लिया गया. सक्षम अधिकारियों ने नेताओं से मौके पर जाकर ही ज्ञापन ले लिए गए. सदर तहसील में लगाए गए टेंट आदि उखाड़ दिए गए थे. तहसील तक कोई नेता नहीं पहुंच पाया.

जानकारी के मुताबिक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर प्रदेश भर में तहसील मुख्यालयों पर पार्टी कार्यकर्ताओं को प्रदर्शन करना था. आगरा के भी सदर तहसील पर धरना-प्रदर्शन का ऐलान किया गया था. जिसके लिए पार्टी ने प्रशासन से इसकी अनुमति भी मांगी थी जो नहीं मिली थी . इसके बावजूद जिला और शहर समाजवादी पार्टी इकाइयों ने पूरे दमखम के साथ तहसील तक जाने की तैयारियां की थी. लेकिन सोमवार सुबह शहर अध्यक्ष वाजिद निसार, जिलाध्यक्ष रामगोपाल बघेल के घर पर सुबह ही पुलिस पहुंच गई. तहसील की ओर जाने पर सख्ती से निपटने की चेतावनी दी गई. हालांकि प्रदेश सरकार और मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ जमकर नारेबाजी हुई. बाद में सक्षम अधिकारियों ने नेताओं के आवास के बाहर ही रोककर ज्ञापन ले लिए.

होटल में आया था कपल, कमरे में मिला सिर्फ महिला का शव, बॉयफ्रेंड फरार

इस मामले में समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष रामगोपाल बघेल ने कहा कि केंद्र के साथ प्रदेश सरकार भी हर मोर्चे पर फेल हो गई है. अपराधों की बाढ़ आ गई है. महिलाओं पर इतने अत्याचार पहले कभी नहीं हुए. किसान विरोधी बिल लाकर पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाया जा रहा है. बेरोजगारी रिकार्ड स्तर पर है, स्वास्थ्य सेवाएं लचर हैंऐसे में इस सरकार को सत्ता में रहने का हक नहीं है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें