अखिलेश यादव पहुंचे आगरा संग्रहालय, नाम बदलने पर योगी सरकार पर साधा निशाना

Smart News Team, Last updated: 13/12/2020 09:23 AM IST
  • आगरा का म्युजियम देखने पहुंचे उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सरकार को निशाने पर लिया है. उन्होंने मुगल म्युजियम का नाम बदलने पर कहा है कि हमारी सरकार बनते ही इस म्युजियम को राष्ट्रीय एकता एवं बहुधर्मी साझी विरासत के नाम पर जाना जाएगा. इसमें महापुरषों की प्रतिमाएं स्थापित करेंगे.
आगरा का म्युजियम देखने पहुंचे अखिलेश यादव.(ट्वीटर)

आगरा. उत्तर प्रदेश में 2022 में विधानसभा चुनाव हैं जिसके लिए बयान अभी से शुरू हो गए हैं. आगरा का म्युजियम देखने पहुंचे उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सरकार को निशाने पर लिया है. उन्होंने मुगल म्युजियम का नाम बदलने पर कहा है कि हमारी सरकार बनते ही इस म्युजियम को राष्ट्रीय एकता एवं बहुधर्मी साझी विरासत के नाम पर जाना जाएगा. इसमें महापुरषों की प्रतिमाएं स्थापित करेंगे.

अखिलेश यादव ने आगरा म्युजियम के दौरा किया और ट्वीटर पर अपनी फोटो शेयर करते हुए ट्वीट किया कि आगरा में सपा के समय शुरू हुआ मुग़ल म्यूज़ियम सपा सरकार आने पर राष्ट्रीय एकता एवं बहुधर्मी साझी विरासत के नाम से जाना जाएगा. आने वाले समय में सपा इसमें महाराज अग्रसेन, राजमाता जीजाबाई, छत्रपति शिवाजी महाराज व शहीद भगत सिंह जी की प्रतिमा ससम्मान लगवाएगी.

किसान आंदोलन: आज दिल्ली-आगरा व दिल्ली-जयपुर नेशनल हाईवे बंद करेंगे किसान

बता दें कि संग्रहालय का निर्माण कार्य सपा सरकार के समय हुआ था. पिछले साल सितंबर में योगी सरकार ने इसका नाम मुगल संग्रहालय से बदलकर छत्रपति शाहूजी महाराज कर दिया था. पिछले कुछ दिनों से अखिलेश यादव लगातार सक्रिय दिखे हैं. हाल ही में किसान आंदोलन के समर्थन में सड़क पर उतरे और लगातार उस पर अपनी प्रतिक्रिया देते नजर आ रहे हैं.

आगरा पुलिस ने दो घंटे में गुमशुदा बच्चों को किया बरामद, आरोपी अरेस्ट

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें