आगरा

आगरा न्यूज: कोरोना काल में लंबा हुआ इंतजार, अब भी नहीं कर पाएंगे ताजमहल दीदार

Smart News Team, Last updated: 07/06/2020 08:38 PM IST
  • केंद्रीय पर्यटन और संस्कृति मंत्रालय ने स्मारकों को खोलने की इजाजत दे दी है। मगर आगरा का ताजमहल अभी नहीं खुलेगा, क्योंकि स्थानीय प्रशासन ने इसकी अनुमति नहीं दी है।
ताजमहल

कोरोना संकट की वजह से पूरे देश में लागू लॉकडाउन को अब धीरे-धीरे खोलने की कवायद तेज हो गई है। कोरोना अनलॉक-1 के तहत अब धार्मिक स्थलों के साथ-साथ स्मारकों को भी 8 जून से खोले जाने की इजाजत मिल गई है। केंद्र सरकार की ओर से मंजूरी मिलने के देश के सभी 820 सक्रिय स्मारकों को 8 जून से खोल दिया जाएगा। मगर ताजमहल का दीदार करने के लिए अभी लंबा इंतजार करना पड़ेगा। क्योंकि कोरोना के बढ़ते प्रभाव और आगरा के रेड जोने में होने की वजह से स्थानीय प्रशासन ने अभी इसकी अनुमति नहीं दी है। बता दें कि 17 मार्च से लगातार ताजमहल बंद पड़ा है। 

पर्यटन एवं संस्कृति मंत्रालय ने देश के 820 स्मारकों को खोलने की अनुमति दे दी है। इनमें से आगरा सर्किल के 34 पुरातात्विक महत्व की मस्जिदें और मंदिर शामिल हैं। ताजमहल परिसर स्थित मस्जिद, फतेहपुरसीकरी में शेख सलीम चिश्ती की दरगाह के अलावा मथुरा के तीन मंदिरों को भी खोले जाने की अनुमति दी गई है, लेकिन आगरा के हालात ठीक नहीं हैं। नगर निगम की पूरी सीमा रेड जोन में है। इसलिए यहां कोई धार्मिक स्थल नहीं खुल पाएगा।

पर्यटन एवं संस्कृति मंत्रालय द्वारा जारी सूची के अनु‌सार आगरा में 14 मस्जिदों, मथुरा में तीन मंदिरों, संभल में दो मस्जिदों, कन्नौज में तीन मस्जिदों को खोले जाने की अनुमति दी गई है। ये सभी शासन की गाइडलाइन के अनुसार ही खोली जाएंगी। धार्मिक स्थलों पर काफी सख्त पहरा रहेगा। किसी को भी मूर्तियों को छूने की अनुमति नहीं होगी। किसी भी धार्मिक स्थल पर प्रसाद वितरण नहीं किया जाएगा। सिर्फ पांच लोगों को ही एक साथ धार्मिक स्थल के अंदर प्रवेश दिलवाया जाएगा। पुरातत्व विभाग के आगरा सर्किल में शामिल जिलों में आगरा जिले में कोई मस्जिद और मंदिर नहीं खुलेगा। अन्य जिलों में वहां का प्रशासन मौजूदा हालातों के अनुसार निर्णय लेगा।

 

केंद्रीय पर्यटन और संस्कृति मंत्री प्रहलाद पटेल ने ट्वीट कर कहा, 'आज संस्कृति मंत्रालय ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के संरक्षित 820 सक्रिय गतिविधियों वाले स्मारकों को 8 जून से खोलने की स्वीकृति दी है। गृह एवं स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्देशो का पालन हो यही अपेक्षा है।'

दरअसल, आगरा का ताजमहल 17 मार्च से लगातार बन्द है। इतिहास के 372 सालो में ऐसा पहली बार हुआ है, जब इतनी लंबी अवधि के लिए ताजमहल बंद रहा है। बता दें कि 25 मार्च से लागू लॉकडाउन की वजह से ताजमहल के अलावा, देश के अन्य सभी सक्रिय स्मारक बंद पड़े हैं। इसमें फतेहपुर सीकरी भी है, जो बंद पड़ा है। 

अन्य खबरें