अब चांद की रौशनी में पांचों दिन सैलानी कर सकेंगे ताज का दीदार, सभी स्लॉटों में खुलेगा ताजमहल

Anurag Gupta1, Last updated: Sat, 30th Oct 2021, 10:40 AM IST
अब सैलानियों के लिए हर स्लॉट में ताजमहल खुलेगा. कोरोना के चलते लगाई गई पाबंदियों को हटा दिया गया है. अभी तक रात में 8:30 से 11 बजे तक आधा-आधा घंटे के पांच स्लॉटों में ही सैलानियों के दीदार के लिए ताजमहल खोला जा रहा था. ताजमहल अब आधे-आधे घंटे के आठ स्लॉट में खुलेगा.
ताजमहल (फाइल फोटो)

आगरा. ताजमहल का दीदार करने वालों के लिए खुशखबरी. अब रात में पांचो दिन सभी स्लॉटों में ताजमहल खुलेगा. कोरोना के मद्देनजर कई पाबंदियां लगी थी जो अब हटा दी गई हैं. अब 250 के स्थान पर 400 सैलानी ताजमहल का रात में दीदार कर सकेंगे. कोरोना गाइडलाइन की वजह से सिर्फ तीन स्लॉटों में ही पर्यटक ताज को रात में निहार पाते थे.

प्रदेश सरकार ने कोरोना के बाद ताजमहल घूमने वाले सैलानियों को राहत दी है.  राज्य सरकार ने नई कोरोना गाइडलाइन में रात्रिकालीन कर्फ्यू को हटा दिया है जिसके चलते अब सैलानी रात में भी ताज नगरी का दीदार कर पाएंगे. दो साल पहले कोरोना महामारी ने देश को अपनी चपेट में ले लिया था. इसके कारण कई भीड़ भाड़ वाली जगह पर पाबंदी लग गई थी. जो कोरोना का प्रकोप कम होने और वैक्सीनेशन के बाद धीरे धीरे कम की जा रही हैं. ये सहुलियत सैलानियों को लगभग दो साल बाद दी जा रही है. अभी तक रात में 8:30 से 11 बजे तक आधा-आधा घंटे के पांच स्लॉटों में ही सैलानियों के दीदार के लिए ताजमहल खोला जा रहा था.

PDP चीफ महबूबा मुफ्ती की मांग, आगरा में अरेस्ट कश्मीरी छात्रों को जल्द करें रिहा

आधे-आधे घंटे का होता है स्लॉट:

हर पूर्णिमा पर पांच दिन के लिए ताजमहल रात में 8:30 से 12 बजे तक खुलता है. इसमें कुल आधे-आधे घंटे के आठ स्लॉट होते हैं. हर स्लॉट में एक वक्त में 50 पर्यटकों को ताजमहल का दीदार करने की अनुमति होती है.

एक दिन पहले बुक करनी होती है टिकट:

आगरा के माल रोड स्थित एएसआई के कार्यालय से रात को ताजमहल घूमने के लिए एक दिन पहले टिकट बुक करनी पड़ती है. शुक्रवार रात को बंद रहता है ताजमहल. ताजमहल के दीदार के लिए सैलानियों को पूर्वी गेट से ही प्रवेश दिया जाता है. बता दें ताजमहल के दीदार के लिए टिकट ऑनलाइन बुक नहीं होती है. रात में ताजमहल घूमने के लिए टिकट कार्यालय से ले सकते हैं. टिकट लेने के पहचान पत्र होना जरूरी है. किसी और की टिकट पर कोई और व्यक्ति प्रवेश नहीं कर सकता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें