आगरा के स्कूल में निर्धारित समय पर नहीं मिले शिक्षक, बीएसए ने किया निलंबित

Smart News Team, Last updated: Wed, 7th Jul 2021, 12:13 AM IST
  • आगरा में परिषदीय स्कूलों में प्रधानाध्यापक और शिक्षकों के निर्धारित समय पर न मौजूद रहे को लेकर बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा कार्रवाई करने का मामला सामने आया है. आगरा में स्कूलों के निरीक्षण के दौरान बीएसए ने तीन प्रधानाध्यापक और शिक्षकों को निलंबित कर दिया है.
आगरा में स्कूलों के निरीक्षण के दौरान बीएसए ने तीन प्रधानाध्यापक और शिक्षकों को निलंबित कर दिया

आगरा:आगरा में परिषदीय स्कूलों में प्रधानाध्यापक और शिक्षकों के निर्धारित समय पर न मौजूद रहे को लेकर बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा कार्रवाई करने का मामला सामने आया है. आगरा में स्कूलों के निरीक्षण के दौरान बीएसए ने तीन प्रधानाध्यापक और शिक्षकों को निलंबित कर दिया है. बताया जा रहा है कि सस्पेंड किये गए प्रधानाध्यापक और शिक्षकों पर दायित्वों का निर्वहन न करने का भी आरोप है.

बीएसए के साथ खंड शिक्षा अधिकारियों ने भी विद्यालयों का निरीक्षण किया था. इस बारे में बात करे हुए बीएसए राजीव कुमार ने बताया कि निरक्षण 15 दिसंबर को किया या था. इस दौरान प्राथमिक विद्यालय, पुरा बीच और बाह का औचक निरीक्षण किया गया था. इंस्पेक्शन के दौरान ही पाया कि विद्यालय के सभी कक्ष और कार्यालयों के गेट खुले थे, लेकिन कोई भी टीचर उसमें मौजूद नहीं था. जब बीएसए के अधिकारियों ने आसपास के लोगों से इस बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि यह गेट हमेशा ऐसे ही खुला रहता है.

लोगों ने यह भी बताया कि विद्यालय के प्रधानाध्यापक मनोज कुमार शर्मा, सहायक अध्यापक नीरज 15 से 20 में केवल एक या दो दिन ही विद्यालय आते हैं. बीएसए ने इंस्पेक्शन के दौरान विद्यालय में गंदगी भी फैली देखी. इन मामलों पर जांच करते हुए प्रधानाध्यापक और शिक्षक दोनों को ही निलंबित कर दिया गया. बताया जा रहा है कि खंड शिक्षा अधिकारी बाह ओमप्रकाश अकेला और खंड शिक्षा अधिकारी, खंदौली समर अब्बास जैदी को संयुक्त रूप से जांच अधिकारी नामित किया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें