ताजनगरी में हवा फिर हुई जहरीली, एक्यूआई पहुंचा 270 के पार

Smart News Team, Last updated: 02/12/2020 01:48 AM IST
  • आगरा में प्रदूषण से जहां कुछ दिनों पहले लोगों को राहत मिली थी तो वहीं एक बार फिर से यहां की हवा जहरीली होती जा रही है. खासकर रविवार के बाद से ही आगरा में प्रदूषण के स्तर में बढ़ोत्तरी देखने को मिली.
आगरा में प्रदूषण का कहर

आगरा: आगरा में प्रदूषण से जहां कुछ दिनों पहले लोगों को राहत मिली थी तो वहीं एक बार फिर से यहां की हवा जहरीली होती जा रही है. खासकर रविवार के बाद से ही आगरा में प्रदूषण के स्तर में बढ़ोत्तरी देखने को मिली. आगरा में बढ़ते प्रदूषण को लेकर केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने भी आंकड़े जारी किये हैं, जिसमें ताजनगरी के वायु प्रदूषण का सूचकांक बीते सोमवार को 270 दर्ज किया गया. रविवार को आगरा में एक्यूआई का स्तर 244 पर था.

आगरा में निर्माण कार्यों के कारण अलग-अलग स्थानों पर प्रदूषण के स्तर में भी भिन्नता देखने को मिली. बताया जा रहा है कि खोदाई और ट्रैफिक जाम के कारण ही आगरा में प्रदूषण का स्तर दोबारा बढ़ रहा है. जिले में खासकर आईएसबीटी, ईदगाह, राजेश्वर मंदिर और बसई तिराहे पर सबसे ज्यादा प्रदूषण और धूल कण पाए गए. इन जगहों पर सामान्य से 9 गुना ज्यादा पार्टिकुलेट मैटर-10 माइक्रोग्राम पाये गए.

आगरा: पैरोल पर छूटे 12 बंदी लौटे, 76 बंदियों की तलाश जारी

आगरा के ईदगाह में पुरानी बसों के कारण हवा में प्रदूषण ज्यादा है तो आईएसबीटी पर ओवरब्रिज के कारण और वाहनों के आवागमन के कारण धूल उड़ रही है. बसई तिराहे पर सीवर और पानी की लाइनों की खोदाई और अब मेट्रो कॉरपोरेशन द्वारा शुरू किए गए काम के साथ ट्रैफिक जाम भी प्रदूषण की बड़ी वजह है. इसी तरह आगरा में शमशान घाट चौराहे पर भी प्रदूषण काफी मात्रा में देखने को मिला. यहां पीएम-10 कणों की मात्रा सामान्य से 5 गुना ज्यादा यानी 474 दर्ज किया गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें