गुरुवार को ताजमहल, आगरा किला जाने वाले सैलानियों का नहीं लगेगा कोई प्रवेश टिकट

Smart News Team, Last updated: Wed, 18th Nov 2020, 3:24 PM IST
वर्ल्ड हेरिटेज वीक के तहत गुरुवार को ताजमहल और आगरा किले में सैलानियों का कोई प्रवेश टिकट नहीं लगेगा. हालांकि कोरोना के कारण सैलानियों को कैपिंग के रुपए देने होंगे.
वर्ल्ड हेरिटेज वी के तहत 19 नवंबर को ताजमहल और आगरा किले में प्रवेश निशुल्क रहेगा.

आगरा. गुरुवार को आगरा के ऐतिहासिक स्मारकों में प्रवेश निशुल्क रहेगा. ऐसे में ताज महल, आगरा किला जाने वाले सैलानियों का कोई प्रवेश टिकट नहीं लगेगा. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के निर्देशक स्मारक द्वितीय अरविन मंजुल द्वारा इसके लिए आदेश जारी किया गया है. गौरतलब है कि सैलानियों से टिकट के रुपये तो नहीं लिए जाएंगे लेकिन कैंपिंग लागू रहेगी.

आपको बता दें कि यूनेस्को द्वारा हर साल 19 से 25 नवंबर तक वर्ल्ड हेरिटेज वीक मनाया जाता है. प्राचीन स्मारक पुरातत्व स्थल और अवशेष अधिनियम 1959 के नियम 6 के अनुसार प्रदत्त शक्तियों का उपयोग करते हुए एएसआई की महानिदेशक वी. विद्यावशी ने 19 नवंबर को स्मारकों में प्रवेश शुल्क नहीं लेने के निर्देश जारी किए हैं. इसका उद्देश्य प्राचीन स्मारकों को संरक्षित करना और लोगों को इसके प्रति जागरूक कर आगे आने वाली पीढ़ियों के लिए ऐसी इमारतों को संरक्षित रखना है.

लखनऊ, आगरा, वाराणसी, कानपुर और मेरठ में आज 18 नवंबर का वायु प्रदूषण AQI लेवल

गुरुवार को आगरा के सभी ऐतिहासिक स्मारकों में सैलानियों से कोई भी प्रवेश शुल्क नहीं लिया जाएगा लेकिन कोरोना महामारी के दौरान खुले स्मारकों में लागू कैपिंग से सैलानियों को कोई राहत नहीं मिलेगी. जानकारी के अनुसार ताजमहल में 5 हज़ार, आगरा किले में 25 सौ और अन्य स्मारकों में 2 हज़ार की कैपिंग रखी गई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें