ट्रेनी पुलिसकर्मी ने फल खरीदा, फिर निकला कोरोना पॉजिटिव, महकमे में मचा हड़कंप

Shankar Pandit, Last updated: 31/05/2020 02:52 PM IST
  • कोरोना वायरस का कहर इतना खतरनाक है कि कब किसे हो जाएगा कोई नहीं जानता। आगरा में एक ट्रेनी पुलिसकर्मी ने फल खरीदा था और अब वह कोरोना पॉजिटिव निकल गया है।
फल विक्रेता की प्रतीकात्मक तस्वीर

कोरोना वायरस का कहर इतना खतरनाक है कि कब किसे हो जाएगा कोई नहीं जानता। आगरा में एक ट्रेनी पुलिसकर्मी ने फल खरीदा था और अब वह कोरोना पॉजिटिव निकल गया है। दरअसल, पहले लोहामंडी थाने का सिपाही कोरोना पॉजिटिव निकला। तीन दिन बाद पुलिस लाइन में ट्रेनिंग ले रहा एक रिक्रूट पॉजिटिव आ गया। आखिर दोनों पुलिसकर्मी संक्रमित कैसे हुए। वे किसके संपर्क में आए थे। यह पता लगाने के लिए एसएसपी दोनों की दिनचर्या के आधार पर तह तक पहुंचने का प्रयास कर रहे थे। छानबीन में साफ हुआ कि दोनों पुलिस कर्मियों ने खरीदारी के दौरान चूक की थी।

पुलिस लाइन में रिक्रूट (प्रशिक्षु सिपाही) में कोरोना संक्रमण की पुष्टि के बाद उसकी टोली के पांच साथियों को क्वारंटाइन कराया गया है। शुक्रवार की रात को पुलिस लाइन में प्रशिक्षु सिपाही की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद उसे सिकंदरा हाईवे स्थित इंजीनियरिंग कॉलेज में आइसोलेशन में भेजा गया। रिक्रूट की टोली में 21 साथी हैं। सीओ लाइन सौरभ दीक्षित के अनुसार जो रिक्रूट उसके आसपास रह रहे थे। फिलहाल उन्हीं को क्वारंटाइन कराया गया है।

पॉजिटिव आए रिक्रूट से बातचीत की गई। पूछा गया कि पिछले सात दिनों में उसने क्या-क्या किया। किससे मिला। बातचीत में साफ हुआ कि इस दौरान उसने सिर्फ एक दिन बाजार से फल खरीदे थे। उन्हें पानी से धोकर खा लिया। आशंका है कि यहां से ही वह संक्रमित हुआ।

एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि सिर्फ पुलिस कर्मियों को ही नहीं आम जनता को भी इस दौरान विशेष सतर्कता बरतनी है। इन दिनों सड़कों पर चहल-पहल है। बाजार खुलने वाले हैं। इसे देखकर यह नहीं समझें कि संक्रमण खत्म हो गया। जो सावधानी पहले बरत रहे थे उसे जारी रखना है। फल और सब्जी को अच्छी तरह पानी से साफ करना है। खरीदने के बाद करीब एक घंटे तक पानी में ही डालकर छोड़ देना है। उसके बाद बाहर निकालकर कुछ देर धूप में रखना है। किसी भी फल को छिलका सहित फिलहाल नहीं खाना है। आम को चूसकर खाने से बचें। उसे काटकर खाएं। छिलका भी उतार दें। इसी तरह तरबूत और खरबूजा को भी छिलका उतारने के बाद काटकर खाएं।

दवा बाजार से खरीदें तो उसके रैपर को भी सेनेटाइज कर सकते हैं। सामान खरीदने के बाद दुकानदार जो नोट वापस करे उसे जेब या पर्स में रखने के बाद हाथ जरूर सेनेटाइज करें। एसएसपी ने सभी पुलिस कर्मियों से कहा है कि पूर्व में जितनी सतर्कता बरत रहे थे उसमें कमी नहीं करनी है। किसी भी सार्वजनिक जगह कुर्सी पर बैठें तो उसके हैंडल टच नहीं करें। टच हो जाएं तो हाथ सेनेटाइज करें। सीढ़ियों की रेलिंग, दरवाजे के कुंडे छूने के बाद हाथ जरूर सेनेटाइज करें।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें