किसान आंदोलन के कारण फिर जाम में फंसे दो हजार वाहन, ढाई किमी तक लगी लाइन

Smart News Team, Last updated: 14/12/2020 05:15 PM IST
  • किसान आंदोलन के कारण एक बार फिर यमुना एक्सप्रेसवे से सफर करने वाले लोगों को जाम का सामना करना पड़ा. यमुना एक्सप्रेसवे पर किसानों को दिल्ली जाने से रोकने के लिए एक-एक वाहन की चेकिंग की जा रही थी, जिससे दो हजार वाहन करीब ढाई किलोमीटर लंबे जाम में फंसे रहे.
किसान आंदोलन के कारण यमुना एक्सप्रेसवे पर लगा जाम

आगरा: आगरा में भी किसानों के आंदोलन को लेकर असर देखने को मिल रहा है. किसान आंदोलन के कारण एक बार फिर यमुना एक्सप्रेसवे से सफर करने वाले लोगों को जाम का सामना करना पड़ा. बताया जा रहा है कि यमुना एक्सप्रेसवे पर किसानों को दिल्ली जाने से रोकने के लिए एक-एक वाहन की चेकिंग की जा रही थी, जिसकी वजह से करीब दो हजार वाहन करीब ढाई किलोमीटर लंबे जाम में फंसे रहे.

पुलिस की चेकिंग के कारण वाहनों की लाइनें लंबी होती चली गईं, जो आगे चलकर ढाई किलोमीटर तक पहुंच गई. बताया जा रहा है कि यमुना एक्सप्रेसवे पर सभी लेन खुली हुई थी, लेकिन बावजूद इसके जाम कम होने का नाम नहीं ले रहा था. पुलिस की चेकिंग सुबह से ही यमुना एक्सप्रेस वे पर जारी थी, लेकिन वाहनों की संख्या कम होने के कारण जाम नहीं लगा. वहीं, जैसे-जैसे वाहनों की संख्या में वृद्धि हुई, जाम भी बढ़ता ही चला गया.

ताजनगरी के महिला शौचालयों में बढ़ी सुविधा, 1 रुपये में मिलेगा सेनेटरी पैड

यमुना एक्सप्रेसवे पर लगे जाम के बारे में बात करते हुए टोल इंचार्ज मेजर (रिटायर्ड) मनीष कुमार ने बताया कि काफी कोशिश के बावजूद सभी गाड़ियां नहीं निकल पाईं. दो हजार वाहन जाम में ही फंसे रह गए, जिन्हें करीब पांच घंटे बाद निकाला गया. रविवार को भी एक्सप्रेसवे पर वाहनों की संख्या 32 हजार के आसपास ही रही है. बता दें कि रविवार के अलावा शनिवार को भी लोगों को जाम की समस्या का सामना करना पड़ा था, क्योंकि पुलिस द्वारा एक्सप्रेस वे की कई लेन को बंद कर दिया गया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें