UP Election 2022: जाटलैंड इगलास में RLD-SP की महारैली, दादी-बुआ की तरह जीतेंगे जयंत चौधरी!

Ankul Kaushik, Last updated: Thu, 23rd Dec 2021, 8:57 AM IST
  • रालोद अध्यक्ष जंयत चौधरी और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की आज 23 दिसंबर को यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के चलते अलीगढ़ जिले की इगलास विधानसभा में महारैली है. चौधरी चरण सिंह की कर्मभूमि इगलास से जयंत की दादी और बुआ को भी जीत मिली है. जाटलैंड के नाम से चर्चित इस सीट से जयंत फिर से रालोद को जीत दिलाएंगे.   
सपा अध्यक्ष अखिलेश और रालोद अध्यक्ष जंयत चौधरी, फोटो क्रेडिट (RLD ट्विटर)

आगरा. यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के लिए रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की आज 23 दिसंबर को अलीगढ़ की इगलास विधानसभा में महारैली है. जाटलैंड के नाम से चर्चित इगलास विधानसभा से रालोद का पुराना नाता रहा है. इस सीट से भारत के पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की पत्नी व जयंत की दादी गायत्री देवी भी जीत दर्ज कर चुकी है. इगलास सीट से चौधरी चरण सिंह के परिवार का पुराना नाता रहा है और इसी वजह से इस सीट से जयंत की बुआ ज्ञानवती सिंह को भी जीत मिली है. इसके बाद रालोद की टिकट से भी कई उम्मीदवारों को जीत मिली है. इस बार फिर यह सीट रालोद के खाते में जाती दिखाई दे रही है. इगलास में जयंत अखिलेश के साथ मिलकर हुंकार भरेंगे और क्षेत्र की जनता को रालोद सपा के गठबंधन की ताकत दिखाएंगे.

साल 1969 के विधानसभा चुनाव में चौधरी चरण सिंह की पत्नी गायत्री देवी ने भारतीय क्रांति दल के टिकट पर चुनाव लड़ा था. इस चुनाव में उन्हें जीत मिली थी. इसके बाद फिर साल 1991 में इसी सीट से जनता दल से चौधरी चरण सिंह की बेटी ज्ञानवती राम लहर में भी चुनाव जीतकर विधायक बनीं. फिर इगलास विधासभा की जाट बेल्ट को साधने के लिए बीजेपी ने इन्हें अपने खेमें में शामिल कर लिया. वहीं फिर चौधरी चरण सिंह के बेटे अजित सिंह ने जनता दल से अलग होकर राष्ट्रीय लोकदल का गठन कर लिया.

जयंत चौधरी बोले- 2022 में बाबाजी को फ्री कर देंगे, गोरखपुर में बछड़ों संग खेलें

इगलास सीट का कई सालों से चौधरी चरण सिंह से प्यार होने का सुबूत वर्ष 2007 में दिखा. साल 2007 के विधानसभा चुनाव में रालोद ने वापकी और विमलेश सिंह चुनाव जीती. इसके बाद साल 2012 से रालोद से ही त्रिलोकीराम दिवाकर ने जीत दर्ज की. फिर साल 2017 के विधासभा चुनाव में बीजेपी के टिकट से राजवीर सिंह दिलेर ने बड़ी जीत हासिल की और फिर उन्होंने 2019 में हाथरस लोकसभा से सांसद का चुनाव जीता. फिर यहां उपचुनाव हुए जिसमें बीजेपी के ही राजकुमार सहयोगी को जीत मिली. अब फिर रालोद को क्षेत्र की जनता काफी पसंद कर रही और आज की इस रैली से साफ हो जाएगा कि इगलास सीट किस के खेमे में जाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें