ब्रज चौरासी परिक्रमा का अयोध्या की तर्ज पर होगा कायाकल्पः नितिन गडकरी

Shubham Bajpai, Last updated: Sat, 8th Jan 2022, 11:15 AM IST
यूपी चुनाव 2022 से पहले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने यूपी को 14 हजार करोड़ रुपये की लागत से बन रहे राष्ट्रीय राजमार्गों की सौगात दी. डिजिटल तौर पर कई राजमार्गों पर शिलान्यास व लोकार्पण किया. उन्होंने कहा कि अयोध्या की तर्ज पर मथुरा के ब्रज चौरासी परिक्रमा का भी कायाकल्प भी किया जाएगा.
ब्रज चौरासी परिक्रमा का अयोध्या की तर्ज पर होगा कायाकल्पः नितिन गडकरी (फाइल फोटो)

मथुरा (भाषा). केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने यूपी में 14 हजार करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले कई राष्ट्रीय राजमार्गों का डिजिटल तौर पर लोकार्पण एवं शिलान्यास किया. इस मौके पर नितिन गडकरी ने कहा कि अब मथुरा की ब्रज चौरासी परिक्रमा का भी अयोध्या के समान ही कायाकल्प किया जाएगा. मथुरा में विभिन्न भागों को जल, वायु और ध्वनि प्रदूषण से मुक्ति दिलाने के प्रयास किए जा रहे हैं और इसी तहत कोशिश की जा रही है.

उन्होंने कहा कि इससे पूर्व वह मथुरा-वृन्दावन में जलमल शोधन संयंत्र की स्थापना के लिए नमामि गंगे परियोजना के तहत 460.45 करोड़ रुपये अपने मंत्रालय से दे चुके हैं.

अखिलेश का CM योगी पर हमला, कहा- BJP के नहीं सदस्य, उन्हें कोई नहीं दे रहा टिकट

इस मौके पर उन्होंने भरतपुर से मथुरा होते हुए बरेली तक के अलग-अलग खण्डों को राष्ट्रीय राजमार्ग में परिवर्तित करने के लिए चार लेन निर्माण, चौड़ीकरण का कार्य कर आगरा-मथुरा राजमार्ग तथा आगरा-ग्वालियर राजमार्ग से जोड़ने के कार्यों का भी शिलान्यास भी किया. इनमें आगरा इनर रिंग रोड व आगरा से नूहखास दो लेन चौड़ीकरण व नूहखास से एटा दो लेन का कार्य भी शामिल है.

इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल और स्थानीय सांसद हेमामालिनी आदि जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे.

गडकरी ने कहा कि पवित्र स्थल मथुरा समेत देश के विभिन्न भागों को जल, वायु और ध्वनि प्रदूषण से मुक्ति दिलाने के प्रयास किए जा रहे हैं और इसी के तहत कोशिश की जा रही है कि अब सभी वाहनों को पेट्रोल के स्थान पर एथेनॉल से चलाया जाए. उन्होंने कहा कि इसी प्रकार, वातावरण एवं पर्यावरण को बचाने के लिए हरित ईंधन लाया जाएगा या बिजली से चलने वाले वाहनों का उपयोग किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि ब्रज चौरासी कोस परिक्रमा को राष्ट्रीय मार्ग घोषित किया जाएगा और चौरासी कोस परिक्रमा का अयोध्या की तर्ज पर कायाकल्प होगा. गडकरी ने कहा कि इसके विकास में पांच हजार करोड़ रुपये का खर्च आएगा.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इसके अन्तर्गत परिक्रमा मार्ग में जहां अधिक से अधिक वृक्ष लगाए जांएगे, वहीं पैदल चलने के मार्ग पर घास लगाई जाएगी, जिससे कि परिक्रमा करनेवाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो.

इसी प्रकार, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी मथुरा व गोवर्धन में बनी दो मल्टी लेवल पार्किंग सहित नौ कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास डिजिटल रूप से किया. इनमें से अधिकतर कार्य पर्यटन विभाग एवं उप्र ब्रज तीर्थ विकास परिषद द्वारा कराए जा रहे हैं. इनमें फरह में पं. दीनदयाल उपाध्याय की जन्मस्थली नगला चंद्रभान में विकास कार्य, नंदगांव में विकास कार्य तथा गोवर्धन में शांतनु कुण्ड तक पहुंच मार्ग व बेंच एवं सौर लाइट लगाने के कार्य शामिल हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें