साइबर ठगी का शिकार होने पर करें ये काम, पैसे आ सकते हैं वापस

Smart News Team, Last updated: Tue, 24th Aug 2021, 10:48 AM IST
  • साइबर क्राइम को लेकर एक नई जानकारी सामने आई है. साइबर ठगी में जिन लोगों के पैसे शातिर ठग ले जाते हैं वह अब उन पैसों को वापस भी मंगवा सकते हैं. हालांकि इसके लिए उन्हें एक काम करना होगा.
आगरा पुलिस ने ऑनलाइन ठगी के 1.45 करोड़ रुपये कराए वापस, (फाइल फोटो)

आगरा. साइबर ठगी को लेकर आगरा पुलिस काफी सतर्क है और आए दिन पुलिस शातिरों को भी पकड़ रही है. हाल ही में आगरा में ऑनलाइन ठगी करने वाले शातिरों को पुलिस ने पकड़ा है. इसके साथ ही पुलिस ने खंदारी की एक रेस्टोरेंट मालकिन पूजा गुप्ता के खाते से शातिरों द्वारा उड़ाए गए पैसों को वापस कराया है. रेस्टोरेंट मालकिन के खाते से साइबर ठग ने 55 हजार रुपये ट्रांसफर कर लिए थे, फिर इसकी जानकारी पुलिस को हुई तो पुलिस ने रकम को होल्ड कराकर उसके खाते में वापस कराया. ये शातिर ठग लोगों को लोन, बीमा और फाइनेंस कर्मचारी बनकर ठगते हैं. अब पुलिस ने इन शातिरों से बचने के लिए और शिकार हुए लोगों को एक सलाह दी है जिससे उनके पैसे वापस आ सकते हैं.

साइबर ठगी के केसों को लेकर आईजी ने बताया कि ऐसे मामलों की तुरंत शिकायत करें. अगर धोखाधड़ी की जानकारी 10 से 25 मिनट में ही साइबर सेल और नेशनल साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल पर मिल जाती है तो खाते से निकाले गए पैसे काफी हद तक वापस आ सकती है. क्योंकि साइबर अपराधी इन घटनाओं को अंजाम देने के लिए ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं और इसके लिए उन्हें समय लगता है.

आगरा बिल्डिंग हादसा: घर गिरने से 10 मिनट पहले ही निकले थे कई युवक, वर्ना हो सकता...

आगरा के आईजी ने बाताया कि साइबर क्राइम में हुई इस तरह की ठगी से अब तक शहर में कई केस हुए हैं. हालांकि जिन लोगों ने तुरंत जानकारी दी है उनके पैसे काफी हद तक वापस आ गए हैं. क्योंकि ई वॉलेट और खाते में लेन-देन को रोककर रकम को को बचाया जा सकता. इसके साथ ही आईजी ने बताया कि तुरंत शिकायत मिलने के कारण पिछले सात महीनों में 1.45 करोड़ रुपये वापस कराए गए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें