हाथरस गैंगरप केस के विरोध में वाल्मीकि समाज ने रोके सफाई कर्मचारी, दो गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: 03/10/2020 03:26 PM IST
आगरा शहर में हाथरस प्रकरण के विरोध में वाल्मीकि समाज के करीब 30 से 40 युवकों के एक समूह ने सफाई नहीं करने दी. जिस कारण मंटोला थाने में नगर निगम के अधिकारी मुकदमा दर्ज कराने पहुंचे.इसके बाद नगर आयुक्त ने बताया कि दो युवको की गिरफ्तारी हो चुकी है. 
हाथरस गैंगरप केस के विरोध में वाल्मीकि समाज ने रोके सफाई कर्मचारी, दो गिरफ्तार, प्रतीकात्मक फोटो

आगरा. आगरा शहर में हाथरस प्रकरण के विरोध में वाल्मीकि समाज के एक समूह ने सफाई नहीं करने दी. सफाई के दौरान इस ग्रुप ने हंगामा शुरू दिया. कर्मचारियों को अपना काम नहीं करने दिया. जिस कारण शहर गंदा को साफ-सफाई करने में काफी दिक्कत हुई.  

किसी श्रीकांत वाल्मीकि के नेतृत्व में  करीब 35 से 40 युवक शहर की सड़को पर निकले. इस दौरान कई जगह मारपीट भी की. नगर आयुक्त ने फिर भी मोबाइल ग्रुप पर मैसेज डाला और कहा  कि कर्मचारी काम बंद न करे.  

हाथरस केस: सवर्णों ने महापंचायत में कहा- सभी आरोपी करें रिहा, आंदोलन की दी धमकी

इस कारण नगर निगम के अधिकारी परेशान रहे. जिस वजह से मंटोला थाने में अधिकारी मुकदमा दर्ज कराने पहुंचे.  इसके बाद नगर आयुक्त ने बताया कि दो युवको की गिरफ्तारी हो चुकी है. इसके बाद अब बाकि लोगों की तलाश जारी है.

हाथरस DM के पीड़ित परिवार को धमकाने से भड़के लोग, जयपुर में घर पर कचड़ा फेंका

बता दें कि हाथरस जिले के चंदपा गांव में 14 सितंबर को 19 साल की दलित युवती के साथ गैंगरेप के किया गया था. इस दौरान रीढ की हड्डी तोड़ दी गई और उसकी जीभ काट दी गई. दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में इलाज के दौरान गैंगरेप पीड़िता की मौत हो गई. मंगलवार की देर रात पुलिस ने युवती का अंतिम संस्कार कर दिया गया. इसमें पीड़िता के परिवालों ने आरोप लगाया कि उन्हें बिना बताएं और जबरन उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया. इसके बाद विपक्षी नेता मायावती, प्रियंका और राहुल गांधी समेत कई नेता योगी सरकार पर सवाल उठा रहे हैं. पूरे देश में यूपी सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें