कोरोना में गणितीय मॉडल पर काम कर रहे हैं वैज्ञानिक

Shankar Pandit, Last updated: 31/05/2020 01:12 PM IST
कोरोना वायरस की वजह से पूरी दुनिया में हाहाकार है। कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के बीच अब कोरोना में गणितीय मॉडल पर वैज्ञानिक काम कर रहे हैं। डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय के गणित विभाग ने शनिवार को इंटरनेशनल वेबिनार का आयोजन किया।
Corona virus (file cum symbolic image)

कोरोना वायरस की वजह से पूरी दुनिया में हाहाकार है। कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के बीच अब कोरोना में गणितीय मॉडल पर वैज्ञानिक काम कर रहे हैं। डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय के गणित विभाग ने शनिवार को इंटरनेशनल वेबिनार का आयोजन किया। कोविड-19 के गणितीय विश्लेषण पर आयोजित वेबिनार में विश्वभर के गणितज्ञों ने भाग लिया। वेबिनार में विशेषज्ञों ने गणित द्वारा कोरोना महामारी के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों के बारे में समझाया। विशेषज्ञों ने बताया कि गणितज्ञों के द्वारा तैयार किए जा रहे मॉडल पर वैज्ञानिक कार्य कर रहे हैं।

वेबिनार में फिलिपींस विवि के प्रो. जोमर राबजांटे, अलअक्सा विवि गाजा के प्रो. गाजी खम्माश और वाईएमएस विवि नाइजीरिया के प्रो. विजय वीर सिंह ने व्याख्यान दिया। विशेषज्ञों ने कहा कि गणित वास्तविक दुनिया की समस्याओं में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। हम में से कुछ लोग हाईस्कूल या कॉलेज में गणित को पीछे छोड़ कर खुश हो सकते हैं, लेकिन कोविड-19 जैसी महामारी के गणितीय मॉडल में इसकी बहुत जरूरत है।

गणित का हमारे जीवन पर हर रोज प्रभाव पड़ा है। कई गणितज्ञ इस महामारी की स्थिति के उपलब्ध आंकड़ों का विश्लेषण करने और इसके बारे में भविष्यवाणी करने के लिए काम कर रहे हैं। गणितज्ञ विश्वव्यापी कोविड-19 महामारी की समझ में योगदान दे रहे हैं। विभिन्न देशों में विभिन्न स्थितियों को ध्यान में रखते हुए गणितीय मॉडल पर सूक्ष्म जीवविज्ञानी और बॉयरोलॉजिस्ट जैसे विशेषज्ञों के साथ काम कर रहे हैं।

महामारी की स्थिति पर की चर्चा

कुलपति प्रोफेसर अशोक मित्तल ने इस महामारी की स्थिति पर चर्चा करते हुए विशेष रूप से इस स्थिति के आर्थिक और गणितीय मॉडल के बारे में उल्लेख पर विचार रखे। पूर्व कुलपति प्रो. सुंदर लाल ने कोरोना महामारी की स्थिति में गणित के महत्व के बारे में चर्चा की। आईक्यूएसी के सदस्य सचिव प्रो. अजय तनेजा ने गणित और कोरोना वायरस के क्षेत्र में नवीनतम शोध के बारे में चर्चा की। आयोजन सचिव प्रोफेसर संजीव कुमार ने कि वेबिनार कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में मदद करने के लिए गणित के योगदान का एक वैश्विक दृष्टिकोण प्रदान करने के लिए डिजाइन किया गया था। वेबिनार के संयोजक प्रो. संजय चौधरी, सीएसटीटी के अध्यक्ष प्रो. अवनीश कुमार, प्रो. विनीता सिंह, प्रो. वीके सारस्वत, प्रो. बिंदू शेखर शर्मा, डॉ. श्यामली गुप्ता, प्रो. मीनाक्षी श्रीवास्तव, प्रो. मणि श्रीवास्तव, प्रो. ओपी मिश्रा उपस्थित रहे।

अन्य खबरें