झोलाछाप डॉक्टर के यहां प्रसव कराने गई महिला और नवजात की मौत, जांच में जुटी पुलिस

Naveen Kumar Mishra, Last updated: Fri, 24th Sep 2021, 1:19 PM IST
आगरा के जैतपुर में झोलाछाप डॉक्टर के क्लीनिक में प्रसव करवाने गई महिला और नवजात की मौत हो गई. परिवार वालों ने क्लीनिक में जमकर हंगामा किया. स्वास्थ्य विभाग की टीम ने क्लीनिक को सील कर दिया है.
झोलाछाप डॉक्टर के क्लीनिक में प्रसव करवाने गई महिला और नवजात की मौत(प्रतीकात्मक फोटो)

आगरा। गुरुवार को आगरा के जैतपुर में झोलाछाप डॉक्टर के क्लीनिक में प्रसव करवाने गई महिला और नवजात की मौत हो गई है. गुस्से में मृतक महिला के परिजनों ने झोलाछाप डॉक्टर पर प्रसव में लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा किया है. वहीं मौके पर पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम ने क्लीनिक को सील कर दिया है.

घरेलू झगड़े में पति ने फांसी लगाकर दी जान, पत्नी ने तीसरी मंजिल से लगाई छलांग, मां बोली..

 

क्लीनिक पंजीकृत नहीं है

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आरोपी झोलाछाप डॉक्टर के क्लीनिक को सील कर दिया है. वहीं समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र  यानी सीएचसी अधीक्षक डॉ. जितेंद्र वर्मा ने सील किए गए क्लीनिक को अपंजीकृत बताया है. उन्होंने बताया कि इस क्लीनिक को इटावा की एक महिला संचालित करती है. मिली जानकारी के अनुसार जिस महिला की क्लीनिक है वो अभी नहीं मिली है. मामले की गंभीरता को देखते हुए क्लीनिक और डॉक्टरों की डिग्री की जांच की जा रही है.

शर्मनाकः बेटी को संपत्ति देने की बात करने पर बेटे-बहू ने पिता पर एसिड डाला, केस दर्ज

 

ये है पूरा मामला

आगरा में चित्राहट के रहने वाले संजीव यादव ने पुलिस को बताया कि गुरुवार के दिन उन्होंने अपनी पत्नी सुमन को क्लीनिक में भर्ती करवाया था. उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी की ये पहली प्रसव थी. संजीव यादव ने बताया कि गुरुवार की शाम पांच बजे उनके नवजात की मौत हो गई थी. नवजात की मौत के बाद परिवार वालों ने क्लीनिक में जमकर हंगामा किया था. हंगामें की सूचना पर पुलिस पहुंची थी. मौके पर पहुंची पुलिस से परिजनों ने क्लीनिक और डॉक्टर पर आरोप लगाया कि प्रसूता के पेट में घूंसे मार-मार कर प्रसव कराया गया है. घटना के बाद पुलिस ने प्रसूता को इलाज के लिए आगरा भेजा दिया था. जहां सुमन की भी मौत हो गई.  

पहले बेटी का रेप किया फिर पीड़िता और मां का वीडियो कॉल पर अश्लील Video बना किया वायरल

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें