आगरा में महिला की मौत, पुलिस ने नहीं सुनी शिकायत, परिवार ने लगाया हत्या का आरोप

Smart News Team, Last updated: 18/09/2020 10:58 PM IST
आगरा के तारंगज में एक महिला की मौत हो गई. ससुरालीजन इसे सुसाइड बता रहे हैं तो मृतक के पिता ने ससुराल वालों पर दहेज हत्या का आरोप लगाया.
मृतक के पिता का आरोप है कि ससुरालीजनों ने दहेज न देने के कारण हत्या की है.

आगरा. आगरा के तारागंज से एक मामला सामने आया है जिसमें बहू ने दहेज की शिकायत पुलिस में की और अगले दिन ही उसकी मौत हो गई. मृतक के पिता ने ससुराल वालों पर दहेज हत्या का आरोप लगाया है तो ससुराल वालों ने इसे खुदकुशी बताया है. पुलिस ने पिता की शिकायत पर ससुराल वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. मृतक के पिता ने पुलिस को भी इस मौत का जिम्मेदार बताते हुए कहा, पुलिस ने मृतक की शिकायत पर कार्रवाई की होती तो ये हादसा टल जाता.

मृतक रीता शर्मा शमसाबाद की रहने वाली हैं. ढाई साल पहले रीता की शादी ताजगंज के गांव बगदा निवासी अमित शर्मा के साथ हुई थी. सीओ सदर महेश कुमार ने बताया कि सुबह पुलिस को सूचना मिली कि रीता ने खुदकुशी कर ली. पुलिस मौके पर पहुंची तो महिला का शव कमरे के फर्श पर पड़ा मिला. सीओ ने बताया कि रीता के 11 माह के दो जुड़वा बच्चे हैं. इस मामले में पुलिस ने ससुर और पति को गिरफ्तार कर लिया है.

शौक पूरे करने के लिए दोस्त संग नाबालिग ने दादाजी के अकाउंट से साफ किए 15 लाख

रीता के पिता ने पुलिस को भी इस घटना का जिम्मेदार बताया. मृतक के पिता मुन्नालाल शर्मा ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी बेटी की मौत का जिम्मेदार एकता चौकी पुलिस है. बेटी को दहेज के लिए ससुराल में पीटा जा रहा था. पिता ने कहा, ससुराल वाले उससे 10 लाख रुपए और चार पहिया गाड़ी की मांग कर रहे थे. उत्पीड़न से परेशान होकर दो दिन पहले बेटी चौकी पर ससुराल वालों की शिकायत लेकर पहुंची थी. अगर पुलिस ससुरालीजन को बुलाकर हिदायत देती तो शायद उनकी बेटी जिंदा होती.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें