आगरा-दिल्ली हाइवे पर लगा 40 किमी लंबा जाम, हजारों वाहन फंसे

Smart News Team, Last updated: 05/12/2020 07:55 PM IST
  • किसानों को रोकने के लिए हरियाणा सरकार ने कोसीकलां के आगे कोटवन बॉर्डर को भी सील कर दिया था. ऐसे में आगरा-दिल्ली हाइवे पर करीब 40 किलोमीटर लंबा जाम लग गया. इस जाम में करीब हजारों छोटे-बड़े वाहनों फंसे हुए नजर आए.
फाइल फोटो

आगरा. दिल्ली से सटी सीमाओं पर किसान आंदोलन जारी है. इसका असर अब आगरा जैसे क्षेत्रों में भी देखने को मिल रहा है. दरअसल, किसानों को रोकने के लिए हरियाणा सरकार ने कोसीकलां के आगे कोटवन बॉर्डर को भी सील कर दिया था. ऐसे में आगरा-दिल्ली हाइवे पर करीब 40 किलोमीटर लंबा जाम लग गया. इस जाम में करीब हजारों छोटे-बड़े वाहनों फंसे हुए नजर आए. बताया जा रहा है कि जो छोटे और चाहपहिया वाहन गांवों के अंदर से गुजरकर निकल जाया करते थे, शनिवार को वह स्थिति भी वाहनों के लिए नहीं बची.

दिल्ली आगरा हाइवे पर लगे इस लंबे जाम के कारण शनिवार की सुबह आगरा-मथुरा मार्ग पर रोडवेज ने अपनी बसों को भेजना भी बंद कर दिया. ऐसे में आगरा से मथुरा और दिल्ली की और यात्रा करने वाले यात्री भी काफी परेशान नजर आए. बताया जा रहा है कि जाम के कारण दिल्ली की और जाने वाले वाहन यमुना एक्सप्रेस वे होते हुए जा रहे थे. वहीं, मुथरा तक केवल प्राइवेट बसों का ही आना जाना लगा हुआ था.

आगरा: मिशन शक्ति अभियान के तहत एक दिन की थानेदार बनी बीए फाइनल छात्रा निशा बानो

40 किलोमीटर लंबा जाम लगा होने के कारण आगरा की तरफ से दिल्ली की ओर जाने वाले वाहनों को टाउनशिप तिराहे से गोकुल बैराज, जमुनापार होते हुए यमुना एक्सप्रेस वे की ओर निकाला गया. वहीं, छटीकरा से भी वाहनों को वृंदावन होकर यमुना एक्सप्रेस वे की ओर डायवर्ट किया जा गया. इसके अलावा छोटे वाहनों को कोसीकलां से गांव के मार्गों के जरिए हरियाणा भेजा गया. बताया जा रहा है कि यदि हरियाणा सरकार ने बॉर्डन नहीं खोला तो शनिवार की शाम तक यही स्थिति बनी रहेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें